न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

बिहार में मानव संसाधन के विकास के लिए माहौल नहीं, क्योंकि गुणवत्तापूर्ण शिक्षा का है अभाव: कुशवाहा

35

Patna: केंद्रीय मंत्री एवं रालोसपा प्रमुख उपेंद्र कुशवाहा ने शुक्रवार को कहा कि बिहार में मानव संसाधन के विकास का कोई माहौल नहीं है, क्योंकि प्रदेश में गुणवत्तापूर्ण शिक्षा का अभाव है. कुशवाहा ने कहा, ‘‘बिहार जैसे प्रदेश में मानव संसाधन के विकास के बगैर कुछ नहीं किया जा सकता है. प्रदेश में मानव संसाधन के विकास का कोई माहौल नहीं है क्योंकि प्रदेश में गुणवत्तापूर्ण शिक्षा का अभाव है.’’

इसे भी पढ़ेंःरिम्स के जिस कैंसर विंग पर सरकार 82 करोड़ से अधिक कर चुकी है खर्च, वहां हैं सिर्फ दो डॉक्टर

मंत्री ने पार्टी कार्यालय में संवाददाताओं से कहा कि सरकारी स्कूलों, कालेजों और विश्वविद्यालयों में गुणवत्ता वाले शिक्षकों की कमी है. इसके परिणामस्वरूप प्रदेश में गुणवत्ता परक शिक्षा में रूकावट पैदा हो रही है. केंद्रीय मानव संसाधन विकास राज्य मंत्री कुशवाहा ने कहा कि उनकी पार्टी ने शिक्षा प्रणाली सुधारने में लोगों की भागीदारी बढ़ाने के लिये उनके बीच जागरूकता फैलाने को लेकर कई सामाजिक कार्यक्रमों की शुरूआत की है.

इसे भी पढ़ें- 18 साल बाद भी अधर में झारखंड-बिहार के बीच 2584 करोड़ की पेंशन देनदारी, कई राउंड बैठकों के बाद भी…

उन्होंने कहा, बडी संख्या में प्रदेश में ऐसे शिक्षक हैं जो गुणवत्तापूर्ण शिक्षा उपलब्ध नहीं करा सकते हैं. इसलिए ऐसे शिक्षकों का तबादला राज्य के अन्य सरकारी विभागों में कर दिया जाना चाहिए.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: