BiharBihar Election 2020

बिहार विधानसभा चुनाव: NDA में सीटों का बंटवारा तय, 2010 के फॉर्मूले पर सहमति

विज्ञापन

Patna: बिहार में विधानसभा चुनाव 2020 के लिए एनडीए ने अपना फॉर्मूला तय कर लिया है. सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार सीट बंटवारे का फॉर्मूला 2010 की तरह ही करने की बात भी कही गयी है. 2010 में जेडीयू 141 और बीजेपी ने 102 सीटों पर चुनाव लड़ा था.

सूत्र की मानें तो विधानसभा चुनाव 2020 में जेडीयू 103 और बीजेपी 101 सीट पर चुनाव लड़ने जा रही है.

बता दें कि 2010 में जेडीयू 141 और बीजेपी ने 102 सीटों पर चुनाव लड़ा था. लेकिन इस बार एनडीए में एलजेपी और जीतनराम मांझी की पार्टी ‘हम’ भी एनडीए में शामिल है. लिहाजा इस बार 39 सीटें सहयोगी दलों के लिए छोड़ी गयी है.

advt

इसे भी पढ़ें – 1अक्तूबर से अनलॉक-5 : मल्टीपलेक्स, टूरिज्म में मिल सकती है छूट

2015 में जदयू से ज्यादा राजद की सीटें थीं

2015 के बिहार विधानसभा चुनाव में 243 सीटों में से 178 पर महागठबंधन की जीत हुई लेकिन इस जीत में जेडीयू से अधिक विधायक आरजेडी के जीते थे. बीजेपी से अलग हुए नीतीश कुमार की पार्टी जेडीयू ने 2010 के चुनाव में 142 सीटों पर लड़ा था लेकिन 2015 में महागठबंधन में शामिल हुए जेडीयू 101 सीटों पर चुनाव लड़ी थी.

इस लिहाज से देखा जाये तो 2015 में जेडीयू 2010 के मुकाबले 41 कम सीटों पर चुनाव लड़ी थी. इसके अलावा 101 सीटों पर लड़कर जेडीयू ने 71 सीटें जीती थी, जो 2010 के मुकाबले 44 सीट कम थी. वहीं 167 सीटों पर चुनाव लड़ने वाली बीजेपी भी 2015 में महज 53 सीट जीत हासिल कर सकी थी.

एनडीए में सीट बंटवारा फाइनल होते ही सबसे पहले बिहार बीजेपी प्रभारी भूपेंद्र यादव शुक्रवार को दिल्ली रवाना हो गये थे. बिहार प्रभारी के दिल्ली रवाना होने के बाद प्रदेश भाजपा कार्यालय में प्रदेश अध्यक्ष डॉ संजय जायसवाल, बिहार के उपमुख्यमंत्री और बीजेपी बिहार विधानमंडल के नेता सुशील कुमार मोदी के साथ केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद और बिहार स्वास्थ्य मंत्री मंगल पाण्डेय घंटों तक पहले चरण के मतदान के लिए उम्मीदवारों के नाम पर चर्चा करते रहे.

adv

इसे भी पढ़ें – बिहार : बाहुबली आनंद मोहन की पत्नी लवली आनंद राजद में शामिल हुई

आठ विधायकों का कट सकता है टिकट

रविवार को बिहार बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष डॉ संजय जायसवाल भी दिल्ली रवाना हो गये है. सूत्र बताते हैं कि प्रदेश अध्यक्ष पहले चरण के संभावित उम्मीदवारों की सूची भी अपने साथ ले गये हैं जिसपर केंद्रीय चुनाव समिति मंथन कर अपनी सहमति प्रदान करेगी.

सूत्र के अनुसार बीजेपी द्वारा तैयार की गयी लिस्ट में करीब आठ सीटें ऐसी हैं जहां तीन उम्मीवारों के नाम पर चर्चा की गयी है. यानी बीजेपी आठ सिटिंग विधायकों का टिकट काट सकती है.

इसे भी पढ़ें – Covid- 19 : क्या हवा के जरिए भी फैल सकता है वायरस, यह पता लगाने के लिए सीसीएमबी ने शुरू किया अध्ययन

advt
Advertisement

One Comment

  1. Wonderful article! This is the kind of info that
    are supposed to be shared across the net. Disgrace on the
    seek engines for not positioning this submit higher! Come on over
    and talk over with my website . Thank you =)

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button