Bihar

#Bihar: दरभंगा में 5 साल की मासूम से रेप, दुष्कर्म की बढ़ती घटनाओं पर सवाल से कतराते नजर आये डिप्टी सीएम

Darbhanga: महिलाओं, बच्चियों के खिलाफ अपराध की घटनाएं आम होती जा रही हैं. एक ओर हैदराबाद और उन्नाव की घटना से देश स्तब्ध है. वहीं बिहार के दरभंगा में पांच साल की मासूम हैवानियत का शिकार हुई है.

दरभंगा में एक ऑटोरिक्शा चालक ने पांच वर्षीय बच्ची से कथित तौर पर दुष्कर्म किया. घटना शुक्रवार रात की बतायी जा रही है.

इसे भी पढ़ेंः#JharkhandElection: तीन बजे तक 59.27% मतदान, 18 सीटों पर वोटिंग खत्म, जमशेदपुर में शाम पांच बजे तक रहेगा जारी

advt

पांच साल की मासूम से दरिंदगी

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक बाबू राम ने शनिवार को मामले की जानकारी देते हुए बताया कि शुक्रवार देर रात सदर पुलिस थाने के खारुआ मोड़ इलाके में यह वारदात हुई. उन्होंने कहा कि बच्ची को बेहोशी की हालत में दरभंगा मेडिकल कॉलेज अस्पताल (डीएमसीएच) में भर्ती कराया गया है जहां उसकी स्थिति नाजुक बताई जा रही है. आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है.

बताया जा रहा है कि बच्ची तीन वर्षीय एक अन्य बच्ची के साथ एक ऑटोरिक्शा के पास खेल रही थी. दोनों बच्चियां खेलने के दौरान ऑटो में चढ़ गई. जिसके बाद ऑटोरिक्शा चालक ने वाहन चला दिया.

अधिकारी ने बताया कि साहनी ने बच्चियों से कहा कि वह उन्हें घुमाने ले जाएगा, लेकिन उसने तीन वर्षीय बच्ची को पास के एक स्थान पर छोड़ दिया और इसके बाद पांच वर्षीय बच्ची को सुनसान जगह ले जाकर दुष्कर्म किया.

दरभंगा (सदर) के डीएसपी अनोज कुमार ने बताया कि आरोपी की गिरफ्तार हो चुकी है. वो भगवानपुर निवासी तेतर साहनी है, जो पेशे से ऑटो चालक है.

adv

उन्होंने बताया कि आरोप है कि एक सुनसान बगीचे में बच्ची के साथ दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया गया है. फिलहाल आरोपी से पुलिस की पूछताछ जारी है. पुलिस पूरे मामले की छानबीन कर रही है.

इसे भी पढ़ेंःमहिलाओं के खिलाफ बढ़ते अपराध पर बोले रविशंकर प्रसाद ने कहा- मामलों के तीव्र निपटारे की निगरानी जरूरी

सवाल पर मुंह फेरते दिखे डिप्टी सीएम सुशील मोदी

पांच वर्षीय बच्ची के साथ दुष्कर्म मामले में जब राज्य के उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी से मीडिया ने सवाल किया तो जवाब देने की बजाये डिप्टी सीएम ने मुंह घुमाया और बिना कुछ बोले आगे बढ़ गए. उल्लेखनीय है कि देश में बढ़ती रेप की वारदातों पर प्रतिक्रिया देते हुए सूबे के सुशासन बाबू ने पॉर्न साइट को इसके लिए जिम्मेदार बताया है.

वहीं राजद नेता तेजस्वी यादव ने बिहार में गिरती कानून व्यवस्था और महिलाओं के खिलाफ बढ़ते अपराध पर नीतीश सरकार को घेरा है. राजद नेताओं लालू प्रसाद, राबड़ी देवी और तेजस्वी यादव ने महिलाओं के खिलाफ बढ़ती हिंसा के लिए राज्य सरकार को जिम्मेदार ठहराया.

उल्लेखनीय है कि यह घटना ऐसे समय में हुई है जब बक्सर एवं समस्तीपुर जिलों में इस सप्ताह की शुरुआत में अज्ञात महिलाओं के शव मिले थे. ऐसा संदेह है कि इन महिलाओं की दुष्कर्म के बाद हत्या की गई.

इसे भी पढ़ेंः#ThirdPhase: 8 जिला, 17 विधानसभा सीटों पर 312 उम्मीदवार रण में, जाने कौन कहां से आजमा रहा किस्मत

advt
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button