HazaribaghJharkhandLead NewsNEWSTOP SLIDER

हजारीबाग के बहोरनपुर में खुदाई में मिली अब तक की सबसे बड़ी मूर्ति, जुटी भीड़

गौतम बुद्ध व मां तारा की कई दुर्लभ मुर्तियां यहां खुदाई में मिल चुकीं हैं

Hazaribag : हजारीबाग के सितागढा के बहोरनपुर में पुरातत्व विभाग की ओर से जारी खुदाई में छोटी-बड़ी कई दुर्लभ मूर्तियां मिल रहीं हैं. खासकर भगवान गौतम बुद्ध व मां तारा की मूर्तियां बड़ी संख्या में मिल रही है. रविवार को पुरातत्व विभाग की ओर से जारी खुदाई में बड़ी सफलता मिली है. अब तक की सबसे बड़ी मूर्ति दिखाई दी है. हालांकि, इसे अभी तक निकाला नहीं जा सका है.

 

खुदाई में जुटे पुरातत्व विभाग के अधिकारी व कर्मचारी इस मूर्ति को सुरक्षित निकालने की कोशिश में जुटे हैं. पुरातत्व विभाग के अधिकारी वीरेंद्र कुमार ने न्यूज विंग को जानकारी देते हुए बताया कि जो मूर्ति दिख रही है वह लगभग सात फीट की है. मूर्ति को निकालने के बाद ही पता हो सकेगा कि यह मूर्ति किसकी है. फिलहाल मूर्ति का अधिकांश हिस्सा मिट्टी में दबा है.

इसे भी पढ़ेंःराफेल बनाने वाली कंपनी के मालिक ओलिवियर डसॉल्ट की हेलीकॉप्टर दुर्घटना में मौत

पुरातत्व विभाग के अधिकारी मान रहे हैं कि जो मूर्तियां यहां से मिल रही हैं वह आठवीं से 12 वीं शताब्दी के बीच की है. इससे पहले की खुदाई में पुरातत्व विभाग को मिली गौतम बुद्ध और माँ तारा की मूर्तियां व्हाइट सैंडस्टोन की बनी है जो 9वीं शताब्दी की बतायी जा रही है. मालूम हो कि जिले में पहले भी खुदाई में गौतम बुद्ध की प्रतिमाएं मिल चुकी हैं. बोधगया से सटा क्षेत्र होने की वजह से यह इलाका भगवान बुद्ध की गतिविधियों का केंद्र रहा है. ऐसा इतिहासकारों का मानना है.

इसे भी पढ़ेंःबिहार के तर्ज पर भत्ता नहीं मिलने से होमगार्ड जवानों में आक्रोश, आज करेंगे विधानसभा का घेराव

यूं तो खुदाई स्थल पर खुदाई शुरू होने के साथ ही स्थानीय लोगों की भीड़ जुटती रही है. अब खुदाई में सबसे बड़ी मूर्ति मिलने की चर्चा के बाद बड़ी संख्या में स्थानीय लोग मूर्ति देखने पहुंच रहे हैं. स्थानीय लोगों की भीड़ की वजह से खुदाई में किसी तरह का व्यवधान नहीं पहुंचे, इसके लिये प्रशासन ने सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किये हैं. खुदाई में लगातार मिल रही मूर्तियों की वजह स्थानीय लोग गर्व की अनूभुति कर रहे हैं.

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: