Corona_UpdatesLead NewsNationalTOP SLIDER

BIG NEWS : कोरोना वैक्सीन सर्टिफिकेट पर PM MODI की तस्वीर का क्या काम? केरल हाईकोर्ट ने केंद्र सरकार से मांगा जवाब

कोट्टायम निवासी याचिकाकर्ता एम पीटर ने दायर की है याचिका

 

New Delhi : कोरोना वैक्सीन सर्टिफिकेट पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) की तस्वीर को लेकर केरल हाईकोर्ट ने केंद्र सरकार को नोटिस भेजा है. केरल हाईकोर्ट ने शुक्रवार को केंद्र सरकार को उस याचिका पर नोटिस भेजकर जवाब मांगा है, जिसमें पीएम मोदी की तस्वीर के बिना कोरोना वैक्सीनेशन प्रमाण पत्र की मांग की गई थी.

इसे भी पढ़ें :BIG NEWS : मुंबई से लखनऊ जा रही पुष्पक एक्सप्रेस ट्रेन में गैंगरेप, 4 लोग गिरफ्तार

advt

क्या है याचिकाकर्ता का तर्क

कोट्टायम निवासी याचिकाकर्ता एम पीटर ने तर्क दिया कि वर्तमान टीका प्रमाण पत्र एक नागरिक के मौलिक अधिकारों का उल्लंघन करता है और प्रधानमंत्री की तस्वीर के बिना प्रमाण पत्र की मांग की.

इसे भी पढ़ें :RIMS : नहीं बदली मरीजों की प्लेट, छोटे प्लेट में ही परोसा जा रहा खाना

adv

अन्य देशों की वैक्सीनेशन सर्टिफिकेट भी प्रस्तुत किए

याचिका दायर करने के बाद न्यायमूर्ति पीबी सुरेश कुमार ने केंद्र और राज्य सरकारों दोनों को दो सप्ताह में अपना पक्ष रखने का निर्देश दिया. याचिकाकर्ता ने संयुक्त राज्य अमेरिका, इंडोनेशिया, इजराइल, जर्मनी सहित कई देशों के वैक्सीनेशन सर्टिफिकेट भी प्रस्तुत किए, जिसमें कहा गया है कि सर्टिफिकेट पर वे सभी जरूरी जानकारी रखते हैं, न कि सरकार के प्रमुखों की तस्वीरें.

याचिकाकर्ता ने यह भी कहा कि उसे ये प्रमाण-पत्र अपने साथ कई जगहों पर ले कर जाना है और सर्टिफिकेट में पीएम की तस्वीर की कोई प्रासंगिकता नहीं है. ऐसे में अगर सरकार चाहे तो लोगों को बिना किसी फोटो के प्रमाण पत्र लेने का विकल्प दिया जा सकता है.

इसे भी पढ़ें :बीडीओ से कहा जाति प्रमाण पत्र नहीं बनने से लाभ लेने में हो रही है परेशानी

प्रधानमंत्री की फोटो के बिना वैक्सीन सर्टिफिकेट लेने का अधिकार

याचिकाकर्ता ने एडवोकेट अजीत जॉय के माध्यम से दायर याचिका में कहा कि महामारी के खिलाफ लड़ाई को जनसंपर्क और मीडिया अभियान में बदल दिया गया है. इससे यह आभास होता है कि यह वन मैन शो है और पूरा अभियान एक व्यक्ति को प्रोजेक्ट करना है. वह भी सरकारी खजाने की कीमत पर किया जा रहा है. उन्होंने कहा कि उन्हें पीएम मोदी की फोटो के बिना वैक्सीन सर्टिफिकेट लेने का पूरा अधिकार है.

इसे भी पढ़ें :घर के तहखाने में अफसर ने छिपा रखा था 2 लाख करोड़ कैश और 13 टन सोना, छापामारने वालों के उड़े होश

क्या कहा था केंद्र सरकार ने बचाव में

इससे पहले केंद्र सरकार ने वैक्सीन सर्टिफिकेट में प्रधानमंत्री की तस्वीर को शामिल करने के अपने फैसले का बचाव करते हुए कहा था कि पीएम मोदी की फोटो कोविड के खिलाफ जागरूकता पैदा करने में मदद करती है. जब दो महीने पहले उच्च सदन में ये सवाल आया था तो स्वास्थ्य राज्य मंत्री बी पी पवार ने कहा कि जागरूकता को बढ़ावा देने के लिए यह आदर्श तरीका है.

इसे भी पढ़ें :Sarkari Job : जेएसएलपीएस में 400 से अधिक पदों पर होगी नियुक्ति, 24 अक्टूबर तक करें आवेदन

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: