JharkhandLead NewsRanchiTOP SLIDER

BIG NEWS : HEC के मामले में प्रबंधन के साथ वार्ता बेनतीजा, जारी रहेगी टूल डाउन स्ट्राइक

बकाया वेतन को लेकर कर्मचारियों के आंदोलन के कारण 26 दिनों से ठप है उत्पादन

Ranchi : एचईसी के मुद्दे पर श्रमायुक्त ने सोमवार को एचईसी के अधिकारियों और कर्मचारियों की बैठक बुलाई थी. इस बैठक में कोई नतीजा नहीं निकला. बैठक में कर्मचारियों ने स्पष्ट तौर पर कहा कि एचईसी प्रबंधन के आला अफसर वेतन भुगतान को लेकर गंभीर नहीं दिख रहे हैं. वेतन भुगतान को लेकर प्रबंधन को अपना स्टैंड स्पष्ट करना होगा. कर्मचारियों का कहना है कि जबतक बकाया वेतन नहीं मिलेगा, तबतक आंदोलन जारी रहेगा. प्लांटों में कर्मचारी काम नहीं करेंगे. टूल डाउन स्ट्राइक पर रहेंगे.

इसे भी पढ़ें:ये है दुनिया का सबसे आलसी जानवर, पेड़ पर उल्टा लटक कर गुज़ार देता है ज़िंदगी लेकिन बेहतरीन तैराक भी है ये

कंपनी की ओर से इन अधिकारियों ने रखा पक्ष

Catalyst IAS
ram janam hospital

बैठक में प्रबंधन की ओर से एचईसी का पक्ष कार्मिक निदेशक एमके सक्सेना, वित्त निदेशक ए पांडा और प्रोडक्शन व मार्केटिंग निदेशक राण एस चक्रवर्ती, एचआरडी के दीपक दुबे व प्रशांत कुमार ने रखा.

The Royal’s
Pitambara
Sanjeevani
Pushpanjali

अफसरों ने बताया कि कंपनी की आर्थिक स्थिति अच्छी नहीं है. कंपनी कर्मचारियों का सभी बकाया वेतन, देने में असमर्थ है. अफसरों ने कहा कि जनवरी माह में कर्मियों को एक माह का बकाया वेतन भुगतान किया जाएगा.

स्ट्राइक की वजह से कंपनी की स्थिति और खराब होती जा रही है. मार्केट रेवन्यू और वर्क ऑडर पर स्ट्राइक का असर पड़ रहा है. यह कंपनी के भविष्य के लिए बेहतर नहीं है. बैठक में प्रबंधन के पक्ष को श्रमिक संगठन के प्रतिनिधियों ने खारिज कर दिया.

इसे भी पढ़ें:बिहार के ब्राह्मण नेता ने पूर्व सीएम मांझी का सिर काट कर लाने पर घोषित किया 21 लाख इनाम

काम करने के बावजूद वेतन नहीं: श्रमिक संगठन

श्रमिक संगठनों का कहना है कि कर्मचारी प्लांट में अपना काम ईमानदारी से कर रहे है. इसके बाद भी वेतन नहीं मिलना दुखद है. अभी छह माह का वेतन बकाया है. पैसे के अभाव में परिवार चलाना मुश्किल हो गया है.

अब कर्मचारी बिना बकाया वेतन लिए काम पर नहीं लौटेंगे. श्रमिक संगठनों ने कहा की प्रबंधन हर माह दो माह का बकाया वेतन भुगतान करे. वेतन भुगतान को लेकर प्रबंधन स्थिति स्पष्ट करें.

इसे भी पढ़ें:झारखंड के कोडरमा में कोरोना विस्फोट, सोमवार को मिले 60 कोरोना संक्रमित

दो माह का वेतन एक साथ देने की स्थिति में नहीं है कंपनी:

श्रमिक संगठनों की बात सुनने के बाद प्रबंधन ने स्पष्ट कर दिया है कि कंपनी हर महीने दो माह का वेतन एक साथ देने की स्थिति में नहीं है. अब प्रबंधन हर माह कर्मचारियों के वेतन का भुगतान करेगा. बैठक में हटिया प्रोजेक्ट वर्कर्स यूनियन, हटिया मजदूर यूनियन, हटिया मजदूर लोक मंच, एचईसी श्रमिक, एचईसी लिमिटेड कर्मचारी, जनता मजदूर और हटिया कामगार यूनियन के प्रतिनिधि शामिल हुए.

इसे भी पढ़ें:आइंस्टाइन से भी ज्यादा तेज है इस 12 साल के बच्चे का दिमाग, IQ में सबको छोड़ा पीछे !

26 दिनों से ठप है काम

हेवी इंजीनियरिंग कॉरपोरेशन लिमिटेड, एचईसी में पिछले 26 दिनों से उत्पादन ठप है. कंपनी के कर्मचारी वेतन भुगतान की मांग को लेकर टूल डाउन स्ट्राइक पर है.

यह स्ट्राइक दो दिसंबर को सुबह 8 बजे एक साथ निगम के एचएमबीपी, एफएफपी और एचएमटीपी में शुरू हुई थी. छह दिसंबर को एचईसी मुख्यालय में पोस्टेड कर्मियों ने भी काम बंद कर दिया था.

इसे भी पढ़ें:Jharkhand News : भवन निर्माण विभाग के 21 Junior Engineers का तबादला

Related Articles

Back to top button