Lead NewsTOP SLIDERTRENDINGWorld

BIG NEWS :  मारा गया तालिबान का सुप्रीम लीडर हैबतुल्‍ला अखूंदजादा ! मुल्ला गनी बरादर बंधक बना

ब्रिटेन की पत्रिका द स्‍पेक्‍टेटर की रिपोर्ट हक्‍कानी नेटवर्क से संघर्ष में हुई मौत

Kabul :  अफगानिस्तान पर कब्जा करनेवाले तालिबान के अंदर मचे घमासान के बीच एक बड़ी खबर समाने आ रही है. बताया जा रहा है कि तालिबानी नेता मुल्‍ला बरादर को बंधक बना लिया गया है. वहीं तालिबान के सुप्रीम लीडर कहे जाने वाले हैबतुल्‍ला अखूंदजादा की मौत की खबर सामने आई है. रिपोर्ट के मुताबिक बताया जा रहा है कि सत्‍ता को लेकर जारी संघर्ष में मुल्‍ला बरादर को बंधक बनाया गया जबकि इसी दौरान बतुल्ला अखूंदजादा की मौत हो गई. हालांकि अभी तक इस बात की आधिकारिक पुष्टि नहीं हो पाई है.

इसे भी पढ़ें :Unlock Jharkhand: अब खुलेंगे स्पोर्ट्स सेंटर, जानें- किन शर्तों का करना होगा पालन 

आईएसआई दे रहा हक्कानी नेटवर्क को शह

ब्रिटेन की एक पत्रिका द स्‍पेक्‍टेटर ने अपनी रिपोर्ट में बताया कि शीर्ष कुर्सी को लेकर हुए संघर्ष में तालिबानी नेता और अफगानिस्तान के डिप्टी प्रधानमंत्री मुल्‍ला बरादर और वहां के सुप्रीम लीडर हैबतुल्‍ला बुरी तरह से घायल हो गया. रिपोर्ट के मुताबिक यह संघर्ष हक्‍कानी नेटवर्क के साथ सत्‍ता को लेकर हुआ. रिपोर्ट में कहा गया है कि इस संघर्ष में हक्‍कानी नेटवर्क के नेता विजयी रहे. पत्रिका में लिखा गया है कि पाकिस्‍तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई ने भी हक्‍कानी नेटवर्क को शह दे रहा था.

Sanjeevani

इसे भी पढ़ें :BIG NEWS :  सुप्रीम कोर्ट का अहम आदेश- नौकर या केयरटेकर संपत्ति के नहीं हो सकते मालिक

तालिबान के सुप्रीम लीडर का पता नहीं

हैबतुल्‍ला को लेकर द स्‍पेक्‍टेटर मैगजीन में कहा गया है कि अभी तक तालिबान के सुप्रीम लीडर का पता नहीं चल पा रहा है. पत्रिका ने लिखा है, ”हैबतुल्‍ला को न तो देखा गया है और न ही कुछ समय से उनके बारे में सुना गया है. ऐसी कई अफवाहें हैं कि उसकी मौत हो गई है.” हालांकि इससे पहले आई रिपोर्ट में कहा गया था कि तालिबान का प्रमुख चेहरा रहे मुल्ला अब्दुल गनी बरादर को साइडलाइन कर दिया गया है. ऐसा माना जा रहा था कि देश की कमान मुल्ला बरादर को ही सौंप दी जाएगी लेकिन ऐसा हो न सका.

इसे भी पढ़ें :काम की खबरः रांची में घर या दुकान खरीदने के बाद तीन महीने तक नहीं लिया होल्डिंग नंबर तो देना होगा जुर्माना

 

Related Articles

Back to top button