Crime NewsLead NewsNationalTOP SLIDER

BIG NEWS : खुफिया एजेंसियों को 26 जनवरी के दिन बड़े आतंकी हमले का मिला अलर्ट, PM मोदी सहित कई VVIP हैं टारगेट

New Delhi : खुफिया एजेंसियों को 26 जनवरी यानी गणतंत्र दिवस (Republic Day) के मौके पर एक संभावित आतंकी साजिश के बारे में अलर्ट मिला है. इससे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) और अन्य गणमान्य व्यक्तियों की जान को खतरा है.

Advt

इंडिया टुडे की एक रिपोर्ट में दावा किया गया है कि खुफिया एजेंसियों के अनुसार गणतंत्र दिवस के मौके पर संभावित आतंकी हमले का अलर्ट मिला है, जिसमे प्रधानमंत्री मोदी और अन्य गणमान्य की जान को खतरा है.

इंडिया टुडे की रिपोर्ट के मुताबिक, 9 पन्नों की खुफिया जानकारी में पीएम मोदी और उन गणमान्य हस्तियों के लिए खतरा बताया गया है जो भारत के 75वें गणतंत्र दिवस समारोह (75th Republic Day celebrations) में शामिल होंगे.

बता दें कि गणतंत्र दिवस के मौके पर पांच मध्य एशियाई देशों कजाकिस्तान, किर्गिस्तान, तजाकिस्तान, तुर्कमेनिस्तान और उजबेकिस्तान के नेताओं को मुख्य अतिथि के तौर पर आमंत्रित किए जाने की संभावना है.

इसे भी पढ़ें :रिम्स में 100 लोगों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि

ड्रोन का हो सकता है इस्तेमाल

नोट में उल्लेख किया गया है कि यह खतरा पाकिस्तान/अफगानिस्तान-पाकिस्तान के बाहर स्थित गुटों से है. धमकी देने वाले गुट का निशाना मुख्य रूप से उच्च पदस्थ गणमान्य मेहमानों, लोगों की भीड़, महत्वपूर्ण प्रतिष्ठानों, सार्वजनिक सभाओं और देश के अहम ठिकाने हैं. रिपोर्ट में कहा गया है कि यह हमला ड्रोन का इस्तेमाल कर के किया जा सकता है.

इसे भी पढ़ें :बिहार में कोरोना की रफ्तार तेज, 4551 नए मामले आए सामने , पटना में 1218 केस मिले

ये आतंकी गुट हो सकते हैं साजिश में शामिल

इनपुट में कहा गया है कि आतंकी खतरे के पीछे लश्कर-ए-तैयबा (Lashkar-e-Taiba), द रेजिस्टेंस फोर्स (The Resistance Force,), जैश-ए-मोहम्मद (Jaish-e-Mohammad), हरकत-उल-मुजाहिदीन (Harkat-Ul-Mujahideen) और हिज्ब-उल-मुजाहिदीन (Hizb-ul-Mujahedeen) जैसे आतंकी समूह शामिल हैं.

इसे भी पढ़ें :मंत्री रामेश्वर उरांव ने की स्कूलों को खोले जाने की वकालत, कहा- बच्चों की पढ़ाई न हो बर्बाद

खालिस्तानी आतंकी ग्रुप भी हैं सक्रिय

इनपुट में कहा गया है कि पाकिस्तान में स्थित खालिस्तानी ग्रुप भी पंजाब में आतंकवाद को फिर से संगठित करने और पुनर्जीवित करने के लिए कैडरों को लामबंद कर रहे हैं. वे पंजाब और अन्य राज्यों में टारगेटेड अटैक की भी योजना बना रहे हैं. बता दें कि फरवरी 2021 में मिले इनपुट के अनुसार, खालिस्तानी आतंकी ग्रुप प्रधानमंत्री की बैठक और पर्यटन स्थलों पर आतंकी हमला करने की फिराक में हैं.

इसे भी पढ़ें :बिहार में कोरोना की रफ्तार तेज, 4551 नए मामले आए सामने , पटना में 1218 केस मिले

Advt

Related Articles

Back to top button