Lead NewsNationalTOP SLIDER

BIG NEWS : अगर माता-पिता ने ‘छोटे बच्चे’ को दोपहिया पर बैठाया तो कटेगा चालान, हो जाएं सावधान

नए मोटर व्हीकल एक्ट के अनुसार 4 साल से ज्यादा उम्र का बच्चा तीसरी सवारी माना जायेगा

New Delhi : दोपहिया वाहनों पर अक्सर कई लोग अपने बच्चे को लेकर यात्रा करते हैं. अगर आप भी उन लोगों में से एक है तो आपका ट्रैफिक चालान कट सकता है. माता-पिता अक्सर अपने बच्चे को साथ बैठाकर स्कूटर और बाइक पर जाते देखे जाते है.

1000 रुपये का कट सकता है चालान

नए मोटर व्हीकल एक्ट के अनुसार चार साल से ज्यादा उम्र का बच्चा तीसरी सवारी के तौर पर गिना जाएगा. ऐसे में अगर आप अपने टूव्हीलर पर सवार होकर अपने बच्चे और पत्नी को बैठा कर कहीं जा रहे है और बच्चे की उम्र चार साल से अधिक है तो आपका चालान कट सकता है. मोटर वाहन अधिनियम की धारा 194A के अनुसार आपका इस नियम का उल्लंघन करने पर 1000 रुपये का चालान कट सकता है.

ram janam hospital
Catalyst IAS

इसे भी पढे़ं:तीसरी लहर का कहर : दिहाड़ी मजदूरों की प्रति सप्ताह औसत आय घटकर आधी रह गयी

The Royal’s
Pushpanjali
Sanjeevani
Pitambara

बच्चे को मिलाकर भी दो ही लोग होने चाहिए

इसके साथ ही बच्चे को मिलाकर भी आप सिर्फ 2 लोग अपनी मोटरसाइकिल या स्कूटर पर सवार होकर कही जा रहे है तो भी आपका चालान कट सकता है.

नए मोटर व्हीकल एक्ट के अनुसार अगर बच्चे की उम्र चार साल से ज्यादा है और बच्चे को आपने हेलमेट नहीं पहना रख तो आपका 1000 रुपये का चालान कट सकता है. ऐसे में आपको सलाह दी जाती है कि यातायात नियमों का पालन करें और सुरक्षित रहे.

इसे भी पढे़ं:PLFI सुप्रीमो दिनेश गोप के सहयोगी निवेश के ठिकाने से छह पिस्टल, 85 गोलियां और बड़े-बड़े हथियार की डमी बरामद

ये हैं नियम

इसके अलावा अगर आप बिना लाइसेंस के गाड़ी चलाते हुए पकड़े जाते है तो आपको 5000 रुपये का जुर्माना या जेल जाना पड़ सकता है. ऐसे में चालान से बचने के लिए गाड़ी चलाते समय हमेशा संबंधित दस्तावेज साथ रखें.
टू-व्हीकल चलाने वाले ध्यान दें, आपका लापरवाह दोस्त मोटरसाइकिल पर आपके पीछे बैठकर आपके 1000 रुपये खर्च करा सकता है.

हेलमेट नहीं पहनने वालों पर 1000 रुपये का जुर्माना लग सकता है और आपका ड्राइविंग लाइसेंस भी मोटर व्हीकल एक्ट की धारा 194 सी के तहत तीन महीने की अवधि के लिए अयोग्य हो सकता है.

इसे भी पढे़ं:Big News : बेंगलुरू में बंधक बनीं जमशेदपुर की छह बेटियां मुक्त, शुक्रवार शाम तक पहुंचेंगी रांची

Related Articles

Back to top button