Crime NewsLead NewsNationalNEWS

BIG NEWS : एलन मस्क पर लगा प्राइवेट जेट में मसाज के दौरान यौन शोषण का आरोप, मुंह बंद रखने के लिए दिये थे 1,90,000,00 रुपये

SpaceX में फ्लाइट अटेंडेंट की दोस्त ने आखिरकार मामला किया उजागर

New Delhi : दुनिया के सबसे अमीर शख्स एलन मस्क पर एक महिला कर्मचारी के साथ यौन शोषण का आरोप लगा है. इस मामले के निपटारे के लिए साल 2018 में महिला को 2 करोड़ रुपए भी दिए गए थे. यह महिला मस्क के एयरोस्पेस फर्म SpaceX में फ्लाइट अटेंडेंट का काम करती थीं. Business Insider ने एक रिपोर्ट में ये दावा किया है. आरोप को लेकर मस्क की प्रतिक्रिया भी आई है.

इसे भी पढ़ें : कृषि उपज विधेयक: तीन दिन में राज्य में खाद्यान्न स्टॉक खत्म होने की आशंका, व्यापारी आयात नहीं करने पर अड़े

क्या है मामला

Chanakya IAS
Catalyst IAS
SIP abacus

महिला अटेंडेंट SpaceX के कॉरपोरेट जेट फ्लीट के केबिन क्रू की मेंबर थीं. वह कॉन्ट्रैक्ट बेसिस पर काम करती थीं. Business Insider की एक रिपोर्ट के मुताबिक महिला ने मस्क पर प्राइवेट पार्ट दिखाने और बिना अनुमति के उसके पैर सहलाने का आरोप लगाया. इसके अलावा मस्क ने महिला को इरोटिक मसाज के बदले एक घोड़े खरीद देने का ऑफर दिया था.

The Royal’s
Sanjeevani
Pushpanjali

मामला साल 2016 का है. यह आरोप अटेंडेंट की फ्रेंड ने एक घोषणापत्र जारी कर लगाया है. जो कि महिला के सपोर्ट में तैयार किया गया है. घोषणापत्र के मुताबिक, अटेंडेंट ने फ्रेंड को बताया कि फ्लाइट अटेंडेंट की जॉब शुरू करने के बाद उन्हें मसाज प्रोफेशनल का लाइसेंस लेने के लिए प्रोत्साहित किया गया. ऐसा इसलिए ताकि वह मस्क को मसाज दे सके. जिसके बाद मस्क के प्राइवेट कैबिन में एक मसाज के दौरान मस्क ने अटेंडेंट से सेक्स के लिए पूछा. बता दें कि समझौते के तहत पीड़ित महिला ने Non-disclosure agreement पर साइन किए हैं.

इसे भी पढ़ें : जमशेदपुर : पूर्व मुख्यमंत्री मधु कोड़ा की भतीजी के अपहरण मामले में फरार चल रहे आरोपी के घर इश्तहार चस्पा, 24 जून तक न्यायलय में होना होगा प्रस्तुत

अटेंडेंट को दिया गया करीब 2 करोड़ रुपए

लेकिन मस्क की ओर सेक्शुअल डिमांड किए जाने के बाद अटेंडेंट ने मस्क को मना कर दिया था. रिपोर्ट के मुताबिक, इसके बाद अटेंडेंट को ऐसा महसूस होने लगा कि काम के दौरान उसे सजा दी जा रही है.
साल 2018 में अटेंडेंट ने कैलिफोर्निया के एक वकील को हायर किया और इस मामले को लेकर उन्होंने कंपनी के ह्यूमन रिसोर्स डिपार्टमेंट में एक शिकायत दर्ज करवा दी. मामले को लेकर कंपनी ने अटेंडेंट के दोस्त से बात की और जल्द ही इसका निपटारा करवा दिया.

यह मामला कभी कोर्ट नहीं पहुंचा. नवंबर 2018 में एक समझौता हुआ, जिसमें इस मामले को लेकर केस न करने के बदले अटेंडेंट को करीब 2 करोड़ रुपए दिए गए. उन्हें इस मामले को गुप्त रखने को भी कहा गया.

इसे भी पढ़ें : Chaibasa Sports : पश्चिमी सिंहभूम महिला अंडर-19 क्रिकेट टीम का चयन 23 मई को

अटेंडेंट की दोस्त ने क्यों उजागर किया मामला?

रिपोर्ट में अटेंडेंट की दोस्त ने कहा कि मैं इस एग्रीमेंट का हिस्सा नहीं थी. तो मैं इस बारे में बात कर सकती हूं. मैंने अपनी दोस्त को बताए बिना ही इसके बारे में बोलने का फैसला किया है.
उन्होंने कहा- मस्क, दुनिया के सबसे अमीर शख्स हैं. इतना शक्तिशाली शख्स किसी को नुकसान पहुंचाता है और फिर पैसे फेंक कर मामले को निपटाना चाहता है. यह गैर-जिम्मेदाराना है.
अटेंडेंट की दोस्त ने कहा- जब आप चुप रहने का फैसला कर लेते हैं, तो आप उस सिस्टम का हिस्सा हो जाते हैं. आप उस मशीन का हिस्सा बन जाते हैं जो मस्क जैसे शख्स को ऐसे गलत काम करने की इजाजत देता है.

इसे भी पढ़ें : IAS पूजा सिंघल फिर पांच दिन की रिमांड पर, सीए सुमन को भेजा गया जेल

आरोप को मस्क ने ‘राजनीति से प्रेरित एक हिट पीस’ बताया

रिपोर्ट के मुताबिक, जब इस मामले पर मस्क के कमेंट के लिए उन्हें मेल किया गया तो उन्होंने पहले तो और टाइम मांगा और कहा कि इस स्टोरी में अभी बहुत सारी बातें और भी हैं. उन्होंने लिखा- अगर मैं यौन शोषण जैसी चीजों में लिप्त होता, तो मेरे 30 साल के करियर में इससे पहले कोई मामले क्यों नहीं आए. उन्होंने इस स्टोरी को ‘राजनीति से प्रेरित एक हिट पीस’ बताया.

मस्क ने दो ट्वीट भी किए

इस मामले को लेकर मस्क ने दो ट्वीट भी किए. पहले में उन्होंने लिखा- मेरे ऊपर लगे आरोपों को राजनीति के चश्मे से देखा जाना चाहिए. ये उनका स्टैंडर्ड (घिनौना) प्लेबुक है. लेकिन अच्छे भविष्य और फ्री स्पीच के आपके अधिकार की लड़ाई से मुझे कोई भटका नहीं सकता.

वहीं उन्होंने साल 2021 के अपने एक ट्वीट को शेयर करते हुए लिखा- आखिरकार, हम इस स्कैंडल के लिए एलनगेट नाम का इस्तेमाल कर सकते हैं. यह एक तरह से परफेक्ट है.
जब इस मामले को लेकर SpaceX के लीगल वाइस प्रेसीडेंट क्रिस्टोफर कार्डासी से बातचीत की गई. तो उन्होंने कहा- मैं किसी सेटलमेंट एग्रीमेंट के बारे में कुछ नहीं बोलने वाला हूं.

इसे भी पढ़ें : रामगढ़ में टीपीसी के पांच उग्रवादी गिरफ्तार

Related Articles

Back to top button