Crime NewsJharkhandRanchiTOP SLIDER

कच्ची घानी तेल के नाम पर ग्राहकों की आंखों में धूल झोंक रहीं बड़ी कंपनियां

Fortune जैसे ब्रांड के पैकेट में एक तरफ लिखा है कच्ची घानी, दूसरी तरफ किया गया है दावे को खारिज

Ranchi: बाजार में कच्ची घानी के नाम पर बड़े ब्रांड्स के जो खाद्य तेल बिक रहे हैं, जरूरी नहीं कि वे कच्ची घानी से निकाले गये हों. यह बात हम नहीं कह रहे बल्कि सरसों तेल बेचने वाली एक बड़ी कंपनी खुद तेल के पैकेट में ही ऐसा लिख रही है.

बाजार में बहुतायत में बिकने वाले ‘फॉर्च्यून प्रीमियम कच्ची घानी प्योर मस्टर्ड ऑयल’ के पैकेट को पलटकर देखें तो नीचे एक स्पष्टीकरण (Disclaimer) लिखा है, “FORTUNE PREMIUM KACHI GHANI IS ONLY A BRAND NAME AND DOES NOT REPRESENTS ITS TRUE NATURE.”

इसे भी पढ़ें : NEWSWING IMPACT: अल्पसंख्यक विभाग ने सुधारा अपना वेबसाइट, प्रदूषण बोर्ड अब भी नहीं चेता

यानी कंपनी खुद ही पैकेट में स्पष्ट कर दे रही है कि कच्ची घानी उसका ब्रांड नेम है न कि तेल कच्ची घानी से निकाला गया है.

फॉर्च्यून अकेली ऐसी कंपनी नहीं है जो सरसों तेल को कच्ची घानी के नाम पर बेच रही है. सच तो यह है कि बाजार में औसत दामों में बिकने वाले हर ब्रांड के सरसों तेल के पैकेट में कच्ची घानी लिखा होता है. यह बात दीगर है कि ज्यादातर उपभोक्ताओँ को इस बात से मतलब नहीं होता कि तेल कच्ची घानी है या नहीं.

इसे भी पढ़ें :JPSC : 12 या 19 सितंबर को हो सकती है सिविल सेवा परीक्षा

क्या होता है कच्ची घानी तेल

किसी भी तेलहन से तेल निकालने के लिए दो तरह की मशीनें होती हैं- एक होता है ऑयल एक्सपेलर और दूसरी होती है कोल्ड प्रेस मशीन.

ऑयल एक्सपेलर में तेजी से काम होता है और बीज से अधिक मात्रा में तेल निकलता है. इससे निकलने वाले तेल में बहुत से पौष्टिक तत्व नष्ट हो जाते हैं.

वहीं कोल्ड प्रेस मशीन से धीरे-धीरे और कम तेल निकलता है. इसमें तेल पेरने वाला हिस्सा लकड़ी का बना होता है और पुराने जमाने के कोल्हू की तरह काम करता है. कोल्ड प्रेस मशीन से निकाले गये तेल को ही कच्ची घानी तेल कहा जाता है. इस तरह निकाले गये तेल में पौष्टिकता बरकरार रहती है.

बीज से कम तेल निकलने के कारण ही कच्ची घानी तेल महंगा होता है. असली कच्ची घानी तेल एक्सपेलर से निकाले गये तेल की तुलना में इसकी कीमत दोगुनी या इससे ज्यादा हो सकती है. बाजार में कुछ कंपनियां दोनों तरह के तेल बेचती हैं और उनकी कीमत में काफी अंतर होता है.

इसे भी पढ़ें : बिहार के वैशाली में जहरीली शराब पीने से दो युवकों की मौत, परिजनों में मचा कोहराम

Advt

Related Articles

Back to top button