Crime NewsJharkhandRanchiTOP SLIDER

Big Breaking: एडीजे उत्तम आनंद की मौत की सीबीआई जांच की अनुशंसा

हेमंत सरकार ने की अनुशंसा

Ranchi: झारखंड सरकार ने धनबाद के एडीजे उत्तम आनंद की मौत के मामले की सीबीआई जांच कराने की अनुशंसा कर दी है. मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने इस पर अपनी सहमति जता दी है. बता दें कि गत 28 जुलाई को धनबाद के अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश VIII उत्तम आनंद को एक ऑटो ने उस वक्त अपनी चपेट में ले लिया था, जब वह मॉर्निंग वॉक के लिए निकले थे.

घटना के कुछ घंटे बाद जब घटना का सीसीटीवी फुटेज सामने आया तो यह साफ तौर पर दिखा कि सड़क के बिल्कुल बायें किनारे में जॉगिंग कर रहे एडीजे उत्तम आनंद को ऑटो ने जान बूझकर धक्का मार दिया. वह सड़क के किनारे गिर पड़े और उन्हें धक्का मारने के बाद ऑटो बगैर रुके आगे बढ़ गया. दूसरे दिन पुलिस ने एडीजे को टक्कर मारने वाले ऑटो को गिरिडीह से जब्त किया था. पुलिस ने ऑटो चालक लखन वर्मा और उसके साथी को भी गिरफ्तार किया था, जिससे पूछताछ चल रही है.

एडीजे की पत्नी ने शुरुआत में ही इस मामले को हत्या बताते हुए थाने में प्राथमिकी दर्ज करायी थी. एडीजे के पिता ने भी मीडिया से बातचीत में कहा था कि उनके सिर पर रॉडनुमा किसी वस्तु से प्रहार किया गया था. पोस्टमार्टम में भी एडीजे की मौत की वजह किसी कठोर वस्तु से सिर में चोट लगना बताया गया है.

advt

सुप्रीम कोर्ट ने भी लिया है संज्ञान

बता दें कि एडीजे उत्तम आनंद की मौत के इस मामले में सुप्रीम कोर्ट ने भी संज्ञान लिया है. बीते गुरुवार को झारखंड हाई कोर्ट में भी इस मसले पर सुनवाई हुई थी. हाई कोर्ट ने इस मामले में झारखंड के डीजीपी और धनबाद के एसपी से भी जवाब तलब किया था.

फिलहाल इस मामले की जांच झारखंड पुलिस द्वारा गठित की गई स्पेशल इन्वेस्टिगेटिव टीम एसआईटी कर रही है, जिसके मुखिया सीनियर आईपीएस संजय आनंद लाटेकर हैं.

इसे भी पढ़ें :तीरंदाजी में विश्व चैंपियन और ओलंपिक के लिए चयनित दीपिका को राज्य सरकार देगी 50 लाख

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: