न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

बीजेपी को बड़ा झटकाः यूपी में दलित सांसद सावित्री बाई फूले ने छोड़ी पार्टी

पार्टी पर समाज को बांटने का लगाया आरोप

14

Lucknow: आम चुनाव से पहले उत्तर प्रदेश में बीजेपी को बड़ा झटका लगा है. यूपी के बहराइच से दलित सांसद सावित्री बाई फूले ने बीजेपी से इस्तीफा दे दिया है. इस्तीफे के साथ-साथ उन्होंने पार्टी पर बड़ा आरोप लगाते हुए कहा कि बीजेपी समाज में बंटवारे की साजिश कर रही है. यूपी में सावित्री फुले की पहचान बीजेपी के एक बड़े दलित नेता के तौर पर रही है. हालांकि, फुले अक्सर केंद्र सरकार पर निशाना साधती रही हैं. कुछ दिनों पहले ही उन्होंने राम मंदिर को लेकर सरकार पर निशाना साधा था.

हनुमानजी पर योगी के बयान का किया था समर्थन

सीएम योगी के हनुमान जी पर दिये गये बयान पर फुले ने कहा था कि हनुमानजी दलित और मनुवादियों के गुलाम थे. हनुमान जी को मनुवादियों का गुलाम बताते हुए कहा कि अगर लोग कहते है कि भगवान राम है और उनका बेड़ा पार कराने का काम हनुमानजी ने किया था, उनमें अगर शक्ति थी तो जिन लोगों ने उनका बेड़ा पार कराने का काम किया, उन्हें बंदर क्यों बना दिया?

‘देश को राम मंदिर की जरूरत नहीं’

राम मंदिर पर मचे घमासान के बीच सावित्री फुले का मानना है कि देश को मंदिर की जरूरत नहीं है. कुछ दिनों पहले ही उन्होंने राम मंदिर के सवाल पर कहा था कि बीजेपी इस मुद्दे को उछाल रही है जैसे कोई और मुद्दा है ही नहीं. सांसद फुले ने साफ कहा था कि देश को मंदिर की जरूरत नहीं है, क्या मंदिर बेरोजगारी, दलित और पिछड़ों की समस्याओं को दूर कर सकता है. इससे सिर्फ ब्राह्मणों को फायदा होगा, जिनकी आबादी सिर्फ तीन फीसदी है.

ज्ञात हो कि इससे पहले पिछले महीने बीजेपी के सांसद हरीश मीणा ने बीजेपी छोड़ कांग्रेस का दामन थामा था. इस दौरान उन्होंने कहा था कि बगैर किसी शर्त के वो कांग्रेस में शामिल हो रहे हैं.

इसे भी पढ़ेंःकिसके लिए रिश्वत वसूल रहे थे बोकारो डीसी के पीए मुकेश कुमार ?

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

%d bloggers like this: