न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

भीमा कोरेगांव हिंसा : कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह से पूछताछ कर सकती है पुणे पुलिस

पुणे पुलिस के डीसीपी सुहास बावचे ने कहा है कि अगर जरूरत पड़ी, तो हम दिग्विजय सिंह को जांच में जुड़ने के लिए समन करेंगे.

17

Pune : भीमा कोरेगांव हिंसा मामले में महाराष्ट्र की पुणे पुलिस कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह से पूछताछ कर सकती है.  इस संबंध में पुणे पुलिस के डीसीपी सुहास बावचे ने कहा है कि अगर जरूरत पड़ी, तो हम दिग्विजय सिंह को जांच में जुड़ने के लिए समन करेंगे. पुणे पुलिस के अनुसार हिंसा मामले में जून में गिरफ्तार ऐक्टिविस्ट रोना विल्सन को वॉन्टेड नक्सली नेता मिलिंद टेल्टुम्ब्डे ने पत्र लिखा था, जिसमें कहा गया था कि कई कांग्रेसी नेता हमारी मदद को तैयार हैं. जांच के क्रम में पुलिस ने जब गिरफ्तार किये गये माओवादी समर्थक नेता प्रकाश उर्फ रितुपन गोस्वामी और सुरेंद्र गाडलिंग के मोबाइल नंबरों को खंगाला, तो एक नंबर पर कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह का था. 25 सितंबर, 2017 को लिखे इस पत्र में कॉम प्रकाश ने कथित तौर पर कॉम सुरेंद्र को बताया कि छात्रों का इस्तेमाल कर राष्ट्रीय स्तर पर विरोध करने के लिए कांग्रेस नेता उनकी मदद करने को तैयार हैं.

इसे भी पढ़ें : अवैध रोहिंग्याओं को बसाने में मदद कर रहे एनजीओ गृह मंत्रालय के रडार पर, कार्रवाई संभव

पुलिस की  जांच संवेदनशील और हाई प्रोफाइल लोगों से जुड़ी है

silk_park

इस पत्र में कथित तौर पर एक नंबर भी लिखा है, जिसमें कॉम सुरेंद्र इस मामले में मदद के लिए उपयुक्त नंबर पर बात कर सकता है.  यह कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह का फोन नंबर है.  पुणे पुलिस के अनुसार कॉम सुरेंद्र सुरेंद्र गाडलिंग के संदर्भ में है. वह नागपुर के वकील हैं, उन्हें जून में पुलिस ने गिरफ्तार किया था.  जबकि कॉम प्रकाश सीपीआईएम के चोटी के नेताओं में से एक हैं. डीसीपी के अनुसार पुलिस की यह जांच बहुत संवेदनशील और हाई प्रोफाइल लोगों से जुड़ी है. हम इस मामले में सभी ऐंगल से पड़ताल कर रहे हैं.

इससे पूर्व भाजपा ने दिग्विजय सिंह पर नक्सल लिंक का आरोप लगाया था.  दिग्विजय ने जवाब दिया था कि अगर भाजपा मुझपर नक्सली होने के आरोप लगा रही है तो सरकार मुझे गिरफ्तार क्यों नहीं करती?  कहा था कि उन्हें पहले भी देशद्रोही कहा जा चुका है, इसलिए सरकार उन्हें गिरफ्तार करे. बता दें, भाजपा नेता संबित पात्रा ने  ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कांग्रेस पर नक्सल लिंक के आरोप मढ़े थे.  संबित पात्रा ने कहा था कि कांग्रेस नेता जयराम रमेश और दिग्विजय सिंह के नक्सली कनेक्शन हैं.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: