JamshedpurJharkhand

Bharat Bandh First Day:  पहले दिन पूरे जोश में दिखे कर्मचारी, अपने संस्थानों के सामने व चौक-चौराहों पर की नारेबाजी

Jamshedpur : सार्वजनिक क्षेत्र की जनरल इंश्योरेंस कंपनियों सहित समस्त सरकारी औद्योगिक ट्रेड यूनियन, एसोसिएशन, फेडरेशन की दो दिवसीय हड़ताल सोमवार से शुरू हो गई. पहले दिन आंदोलनकारी पूरे उत्साह में दिखे. काम-काज ठप कर कर्मचारियों ने अपने प्रतिष्ठानों के सामने और चौक-चौराहों पर नारेबाजी की. यह दो दिवसीय अखिल भारतीय औद्योगिक हड़ताल महंगाई, बेरोजगारी, निजीकरण आदि मुद्दों को लेकर की जा रही है. इसमें देश की अधिकांश ट्रेड यूनियनस और फेडरेशन सम्मिलित हैं. ऑल इंडिया इंश्योरेंस इंप्लाइज एसोसिएशन भी अपनी मांगों को लेकर इस दो दिवसीय राष्ट्रव्यापी हड़ताल में शामिल है.
इस हड़ताल में बिहार-झारखंड सहित समस्त देश में स्थित ओरिएंटल इंश्योरेंस, नेशनल इंश्योरेंस, यूनाइटेड इंडिया इंश्योरेंस और न्यू इंडिया इंश्योरेंस के सभी कार्यालय बंद रहे और इन कार्यालयों में पदस्थापित समस्त अधिकारियों एवं कर्मचारियों ने भाग लिया. हड़ताली कर्मचारियों ने भारत सरकार के द्वारा जनरल इंश्योरेंस बिजनेस नेशनलाइजेशन एक्ट 2021, जो दोनों ही सदन से पास है और स्वीकृति प्रदान कर दी गई है, जिसके द्वारा सार्वजनिक साधारण बीमा कंपनियों के निजीकरण का रास्ता खोला गया है. इसपर अपना विरोध जताते हुए भारत सरकार से यह मांग की कि सार्वजनिक साधारण बीमा कंपनियों के निजीकरण के मार्ग को बंद करने के लिए जिबना एक्ट को वापस लिया जाए और सार्वजनिक साधारण बीमा कंपनियों को मजबूती प्रदान करने के लिए इन चारों कंपनियों को मर्ज किया जाए. बजट सत्र 2018 में स्व. अरुण जेटली यह प्रस्ताव लाया था कि ओरिएंटल, नेशनल और यूनाइटेड इंडिया को मर्ज कर एक कंपनी का निर्माण किया जाएगा, उसे लागू किया जाए.

ये है मांग

हड़ताली कर्मियों ने यह भी मांग की कि अगस्त 2017 से सार्वजनिक साधारण बीमा कंपनियों का वेतन पुनरीक्षण लंबित है. इस पर जल्द से जल्द वार्ता कर लागू किया जाए. सेवानिवृत्त बीमा कर्मियों की पेंशन अपडेट नहीं होती है, जिसे लागू किया जाए तथा वर्तमान में फेमिली पेंशन के रूप में 15 प्रतिशत दिया जाता है, जिसे बढ़ाकर 30 प्रतिशत किया जाए. वर्तमान में अप्रैल 2010 से सभी बीमाकर्मियों को एनपीएस दिया जाता है, जिसे समाप्त कर सभी बीमाकर्मियों को पेंशन स्कीम 1995 के अंतर्गत लाया जाए.
ये रहे शाम‍िल

हड़ताल के दौरान जमशेदपुर स्थित ओरिएंटल, नेशनल, यूनाइटेड इंडिया और न्यू इंडिया के मंडल कार्यालयों के मंडल प्रबंधक सहित सभी कर्मचारियों ने अपनी मांगों को पूरा करने हेतु जमकर नारेबाजी की. इस अवसर पर न्यू इंडिया इंश्योरेन्स मण्डल कार्यालय के मंडल प्रबंधक सोनल टेटे, शाखा प्रबंधक पंकज कुमार, सागर, अमितेश कुमार, गौरव सिंह, सूरज कुमार, अमर लाल, जेएस चौबे, संजू प्रसाद, गौरव चौधरी, अमित कुमार, राहुल उपाध्याय, सुनीता, ललिता सहित सैकड़ो सदस्य शामिल हुए. हड़ताल के दौरान बिहार-झारखंड इंश्योरेंस इम्प्लॉइज एसोसिएशन के प्रदेश सह सचिव राजेश पांडेय ने सभा को संबोधित किया एवं आने वाले दिनों में अपनी लंबित मांगों को सरकार से पूरा कराने के आंदोलन की धार और अधिक तेज करने की अपील सभी कर्मचारियों से की.

संयुक्त श्रम संघ के कोल्हान

उधर, संयुक्त श्रम संघ के कोल्हान के नेता विश्वजीत दे ने कहा क‍ि केंद्र सरकार की मजदूर विरोधी नीतियों के कारण आज से दिनों का हड़ताल है. जमशेदपुर शहर, खासमहल सदर अस्पताल, एलआईसी बिल्डिंग बिस्टुपुर,  बहरागोड़ा अन्य जगहों से बंदी की खबरें आ रही हैं. श्रमिक संगठन से जुड़े 44 यूनियन इसमें भाग ले रहे हैं. लगभग हर जगह बैनर- पोस्टर के साथ लोग प्रदर्शन कर रहे हैं. बेरोजगारी,  महंगाई,  पीएफ में इंटरेस्ट कटौती, सरकारी कंपनियों में निजीकरण, सरकारी कंपनी की बिक्री आदि के विरोध में हड़ताल है.

ये भी पढ़ें-Jamshedpur Update: बैंककर्मियों की हड़ताल का साइड इफेक्ट, बिष्टुपुर में बंद समर्थकों से एसबीआई के मैनजर की भिड़ंत, मामला गरमाया

Related Articles

Back to top button