Crime NewsJharkhandLead NewsRanchiTOP SLIDER

सावधान : एटीएम में बने ड्रॉप बॉक्स से चेक हो रहे हैं चोरी, Ranchi में नया गिरोह हुआ सक्रिय

- क्लब कॉम्पलेक्स में इंडसइंड बैंक के लगे ड्रॉप बाक्स से करीब 15 लाख रुपये चेक हुए चोरी

  • ग्राहकों की शिकायतों के बाद हुआ खुलासा, चुटिया थाना में मामला दर्ज
     
  • चेक में टेंपरिंग कर पैसे निकालने की भी हुई कोशिश
  • अब पुलिस सीसीटीवी फुटेज से करेगी जांच

Ranchi : ग्राहकों की सुविधा के लिए कई बैंकों ने अपने एटीएम में चेक डालने के लिए ड्रॉप बाक्स लगा रखा है. आप भी अगर इन ड्राप बॉक्सों में चेक डालते हैं तो आपको सावाधानी बरतने की जरूरत है. इसकी वजह ये है कि शहर में आजकल एक नया गिरोह सक्रिय हुआ है. यह गिरोह ड्रॉप बाक्स से चेक की चोरी कर रहा है. चेक में टेंपरिंग कर उसे भंजाने की कोशिश की जा रही है.
इस नये तरह से फर्जीवाड़ा करनेवाले गिरोह का खुलासा हुआ है. इंडसइंड बैंक ने चुटिया थाना में इस संबंध में प्राथमिकी दर्ज कराई है. प्राथमिकी में बताया गया है कि इंडसइंड बैंक का चेक ड्रॉप बाक्स क्लब कॉम्पलेक्स में है. 13 से 16 मार्च के बीच बैंक में चार दिनों की छुट्टी थी.

इसे भी पढ़ें :West Bengal and Assam Assembly Elections Updates: खेला शुरू, बंगाल में 9.30 बजे तक 14.3 फीसदी व असम में 10.2 फीसदी मतदान

ram janam hospital
Catalyst IAS

पांच कंपनियों के 13 चेक चोरी हुए

The Royal’s
Pushpanjali
Sanjeevani
Pitambara

इसी दौरान पांच अलग अलग कंपनियों के करीब 13 चेक चोरी हो गये. गिरोह के सदस्यों ने इन चेक में टेंपरिंग कर पैसे भंजाने की भी कोशिश की. जब इन कंपनियों के चेक की राशि उनके खाते में नहीं क्लियर हुई तब इनकी ओर से शिकायत बैंक को की गई. बैंक के अधिकारियों ने मामले को गंभीरता से लेते हुए जब इसकी जांच शुरू की तो पाया कि कुछ असामाजिक तत्वों ने ड्रॉप से चेक की चोरी की है.

इसे भी पढ़ें :सचिन तेंदुलकर को हुआ कोरोना, ट्वीट पर दी जानकारी

इनके चेक चोरी हुए हैं

— शिव शक्ति इंटरप्राइजेज का करीब 8 लाख रुपये का चेक
— एमिल फार्मास्युटिकल लिमिटेड के सात चेक करीब 3.60 लाख के
— मेडी सिंडिकेट के चार चेक करीब 2.55 लाख रुपये के
— इंडियन सिक्युरिटी यूटिलिटी सर्विसेज के दो चेक करीब 83 हजार रुपये के

इसे भी पढ़ें :Jharkhand: होमगार्ड के जवानों ने किया कार्य बहिष्कार,सरकार का नहीं है ध्यान

ड्रॉप बाक्स से चोरी करते पाए गए दो लोग

ग्राहकों की शिकायत पर जब बैंक ने मामले की जांच शुरू की तो पाया कि दो असामाजिक तत्वों द्वारा एटीएम ड्राप बाक्स से चेक चुरा रहे है. इन दोनों के द्वारा की चोरी के चेक को टेंपर्ड कर बैंक में दूसरे नाम के खाते में जमा कर भंजाने की कोशिश की गई. लेकिन ये कौन है और इनके गिरोह में कितने लोग शामिल है इसकी जानकारी बैंक को नहीं मिल सकी. जिसके बाद बैंक की ओर से चुटिया थाना में प्राथमिकी दर्ज कराई गई. अब पुलिस मामले की जांच कर यह पता लगाएगी कि इस नए गिरोह को कौन लोग संचालित कर रहे है.

इसे भी पढ़ें :RMC निगम परिषद की बैठक में मीडिया की भी होगी Entry, निगम में लाया जायेगा प्रस्ताव

Related Articles

Back to top button