न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

बेरमो एसडीपीओ ने छापेमारी कर अवैध कोयला किया जब्त, एक माह में 300 टन कोयला जब्त

157

Bermo :  बेरमो एसडीपीओ आर रामकुमार द्वारा अनुमंडल के बोकारो थर्मल सहित विभिन्न थाना क्षेत्रों में अवैध कोयला कारोबार के खिलाफ छापेमारी अभियान चलाया जा रहा है.  इसी के तहत एसडीपीओ ने बोकारो थर्मल थाना क्षेत्र के कथारा स्थित सीसीएल जीएम मैदान के नजदीक सोमवार की तड़के लगभग तीन बजे छापेमारी की.

छापेमारी में एसडीपीओ ने एक ट्रक नंबर-जेएच 02 टी-7426 सहित उस पर लदा 7 टन अवैध कोयला जब्त कर लिया. वहीं मौके से कोयला कारोबारी भागने में कामयाब रहे. एसडीपीओ ने अवैध कोयला लदा ट्रक बोकारो थर्मल पुलिस के सुपुर्द कर दिया.

इसे भी पढ़ें – पलामू :  राजद प्रत्याशी ने ईवीएम से छेड़छाड़ को लेकर चुनाव आयोग को पत्र लिखा, सीसीटीवी कवरेज की मांग…

पहले भी कई बार हुई है छापेमारी

बोकारो थर्मल थाना क्षेत्र में लगातार कोयले की तस्करी की जा रही है. बोकारो थर्मल थाना क्षेत्र के जारंगडीह, कथारा बोरिया, मैगजीन हाऊस, जीएम कार्यालय के पीछे सहित अन्य स्थानों से अवैध तरीके से कोयले का कारोबार किया जा रहा है.

इस अवैध कारोबार के पीछे स्थानीय पुलिस की संलिप्तता की बातें भी आसपास के लोग भी कह रहे हैं. बेरमो एसडीपीओ आर रामकुमार के द्वारा भी लगातार छापेमारी कर कोयला लदे वाहनों को जब्त किया जा रहा है.

इसे भी पढ़ें –

हालांकि इससे पहले भी एसडीपीओ ने जारंगडीह स्थित भीटी सेंटर के सामने जंगल से 18 अप्रैल की रात छापेमारी कर एक ट्रक कोयला, एक ट्रैक्टर सहित 10 टन अवैध कोयला जब्त किया था. एसडीपीओ ने इससे पहले 7 मार्च को स्थानीय थाना क्षेत्र के अंतर्गत जारंगडीह स्थित मैगजीन हाउस के पास छापामारी कर दो ट्रक के साथ 30 टन अवैध कोयला जब्त किया था.

महुआटांड़ थाना से बेरमो एसडीएम प्रेमरंजन एवं एसडीपीओ ने छापेमारी कर 200 टन अवैध कोयला जब्त किया था. वहीं 24 दिसंबर को चंद्रपुरा थाना के तुरियो स्थित नदी किनारे सीआईएसएफ क्राइम शाखा ने छापेमारी की थी और 2 ट्रक सहित 50 टन अवैध कोयला जब्त किया था. इसके पहले सीसीएल गोविंदपुर परियोजना से भी सुरक्षा गार्डों ने कोयला लदे दो हाईवा को जब्त किया था.

SMILE

इसे भी पढ़ें – 2019 में 3D यानि धोखा, धमकी और ड्रामेबाजी वाली सरकार से मिलेगी मुक्ति: जयराम रमेश

छापेमारी में स्थानीय पुलिस को नहीं किया जाता शामिल

बेरमो एसडीपीओ द्वारा जब भी थाना क्षेत्र में अवैध कोयला के खिलाफ छापामारी की जाती है तो छापेमारी की कार्रवाई से स्थानीय पुलिस को अलग रखा जाता है. एसडीपीओ द्वारा छापेमारी के बाद ही स्थानीय पुलिस को सूचना दी जाती है. सूत्रों का कहना है कि छापेमारी में स्थानीय पुलिस को शामिल किया जाएगा, तो कोयला लदे वाहनों को जब्त नहीं किया जा सकता है.

वहीं सूत्र बताते हैं कि बोकारो थर्मल से 20 किलोमीटर दूर तेनुघाट में कोयला के अवैध कारोबार की जानकारी एसडीपीओ को लगातार मिल रही थी, लेकिन महज चंद किलोमीटर की दूरी पर इसकी सूचना स्थानीय पुलिस को नहीं मिलती है. सूत्रों का कहना है कि स्थानीय थाना क्षेत्र के बोरिया से 27 अप्रैल की रात 4 ट्रक अवैध कोयला कारोबारियों ने निकाला.

महुआटांड और जगेश्वर बिहार से भी हो रहा कारोबार

बेरमो अनुमंडल के महुआटांड तथा जागेश्वर बिहार थाना क्षेत्र से भी इन दिनों व्यापक पैमाने पर कोयला का अवैध कारोबार किया जा रहा है. जंगली एवं नक्सली क्षेत्र का भय दिखाकर पुलिस की मदद से ये अवैध धंधा चल रहा है. दोनों थाना क्षेत्र से प्रतिदिन 5-7 ट्रक कोयला रामगढ़ के चैनपुर, नयामोड़ के रास्ते निकाला जा रहा है. इसके अलावा नावाडीह ऊपरघाट के पेंक नारायणपुर थाना क्षेत्र से भी कोयले का अवैध कारोबार जारी है.

इसे भी पढ़ें – पिठोरियाः चुनाव में सुरक्षा के नाम पर छात्र, वकील, शिक्षक और बुद्धिजीवियों को अपराधियों की सूची में डाल रही है पुलिस 

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
%d bloggers like this: