BokaroJharkhand

बेरमो: व्यवसायी के घर डकैती, हथियारबंद अपराधियों ने लूटे 7 लाख

विज्ञापन

Bermo: बेरमो अनुमंडल के बीटीपीएस थाना क्षेत्र स्थित कथारा में व्यवसायी गौतम कुमार के घर डकैती हुई. 10 -15 की संख्या में हथियारबंद अपराधियों ने घटना को अंजाम दिया.

शुक्रवार की देर रात घरवालों को बंदूक की नोक पर बंधक बनाकर करीब सात लाख से की संपत्ति लूटकर फरार हो गये. घटना की जानकारी मिलने के बाद पुलिस व्यवसायी के घर पहुंची और मामले की जांच में जुट गयी.

इसे भी पढ़ें- इन चार खबरों से समझिये बीते कुछ सालों में मोदी सरकार में देश की अर्थव्यवस्था का कैसे भट्ठा बैठ गया

हथियार के बल पर दिया घटना का अंजाम

पीड़ित व्यवसायी गौतम ने बताया कि शुक्रवार की रात अपने घर में सोये थे. इसी दौरान घर का दरवाजा तोड़कर 10 से 15 की संख्या में अपराधी घर में घुसे.

हथियार के बल पर सभी को कब्जे में ले लिया. इसके बाद अपराधियों ने घर में रखे ज्वेलरी और नगद रूपये ले लिये. लगभग एक घंटे तक लूट की घटना को अंजाम देने के बाद सभी अपराधी पैदल ही घर से निकल गये. अपराधियों की उम्र 20 से 40 वर्ष के आसपास थी और सभी के हाथों में देशी कट्टा था. सभी ने अपने मुंह पर कपड़ा बांध रखा था.

डकैती की घटना को अंजाम देने के बाद जाते समय अपराधियों ने घर के सभी लोगों के मोबाइल फोन ले लिये और उसे घर के बरामदे में रख दिया. साथ ही घर का दरवाजा बाहर से बंद कर दिया. अपराधियों के जाने के बाद गौतम ने किसी तरह धक्का देकर दरवाजा खोला और सीसीएल सिक्योरिटी और बोकारो थर्मल थाना के इंस्पेक्टर विनोद कुमार को घटना की सूचना दी.

इसे भी पढ़ें- RBI गवर्नर ने माना- देश की इकॉनोमी पर उम्मीद से ज्यादा असर, सुधार में लगेंगे कई साल

मामले की छानबीन में जुटी पुलिस

अपराधियों के द्वारा डकैती की सूचना मिलने के बाद मौके पर पुलिस पहुंचकर मामले की छानबीन में जुट गयी है. इस घटना में शामिल अपराधियों को चिन्हित करने का प्रयास किया जा रहा है. इसके लिए पुलिस संभावित ठिकानों पर छापेमारी कर रही है. साथ ही परिवार वालों से डकैतों का हुलिया जानने की कोशिश भी कर रही है.

घटना की सूचना मिलने के बाद बेरमो एसडीपीओ अंजनी अंजन शनिवार की सुबह घटनास्थल पर पहुंचे और पीड़ित परिवार से घटना की जानकारी ली. बेरमो एसडीपीओ ने कहा कि पुलिस गंभीरता से सभी पहलूओं पर जांच कर रही है. जल्द ही घटना में शामिल सभी अपराधकर्मियों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा.

इसे भी पढ़ें- स्कूल रि-ओपन के बाद बच्चों को स्कूल भेजने के प्रति सजग हो रहे भारतीय पैरेंट्स: सर्वे रिपोर्ट

Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button
Close