न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

झारखंड में सरकार नाम की चीज नहीं, बेरमो में कानून व्यवस्था पूरी तरह चौपट : भाकपा राज्य सचिव

दुर्घटना के बाद मुआवजा को लेकर जब लोग आंदोलन करते हैं तो पुलिस की लाठी के बल पर उसे दबा दिया जाता है.

244

Bermo : झारखंड में सरकार पूरी तरह से फेल है, सरकार नाम की कोई चीज नहीं रह गयी है. कानून व्यवस्था भी पूरी तरह से चौपट हो गयी है. भाकपा के राज्य सचिव तथा हजारीबाग के पूर्व सांसद भुवनेश्वर प्रसाद मेहता ने सोमवार को बोकारो थर्मल स्थित डीवीसी के निदेशक भवन में पत्रकारों को संबोधित करते हुए उपरोक्त बातें कही. राज्य सचिव ने कहा कि राज्य की राजधानी रांची सहित बोकारो, धनबाद, जमशेदपुर एवं हजारीबाग में हत्या लूट,डकैती,छिनतई की घटना आम हो गयी है. जिससे स्थिति काफी भयावह हो गयी है. राज्य की राजधानी मेें सीएम के आवास के सामने हत्यायें हो जा रही हैं. राज्य की पुलिस पूरी तरह से निरंकुश हो गयी है. आम जनता को राज्य के थानों में सनहा दर्ज करवाने में भी हजार रुपये देने पड़ते हैं. राज्य सचिव ने कहा कि आम्रपाली एवं मगध में विगत दो माह के दौरान बेतहाशा चलने वाले हाईवा एवं अन्य बड़े वाहनों से होने वाली सड़क दुर्घटनाओं में 50 से ज्यादा लोगों की जानें गयी हैं. दुर्घटना के बाद मुआवजा को लेकर जब लोग आंदोलन करते हैं तो पुलिस की लाठी के बल पर उसे दबा दिया जाता है.

इसे भी पढ़ें : दहेज नहीं मिलने से नाराज था दामाद, ससुर को मारी गोली

आजसू पार्टी को पहले सरकार से हटना चाहिए 

आजसू के स्वराज स्वाभिमान यात्रा के संबंध में पूर्व सासंद ने कहा कि आजसू सरकार में शामिल होकर सरकार के विरोध का दिखाव करती है. पार्टी के मंत्री सरकार में शामिल होकर लुट एवं भ्रष्टाचार में संलिप्त हैं. आजसू को पार्टी का स्वाभिमान बचाने के लिए पहले सरकार से हटना चाहिए था.

राज्य में लचर बिजली की व्यवस्था पर पूर्व सासंद ने कहा कि राज्य के सीएम 2022 तक राज्य के सभी गांवों में बिजली पहुंचाने की बात करते हैं. जबकि वर्तमान में 10-12 घंटे तक लोगों को बिजली के लोड शेडिंग का सामना करना पड़ता हैं. उन्होंने कहा कि वर्षा नहीं होने के कारण राज्य में अकाल एवं सुखाड़ जैसे हालात हो गये हैं और ऐसे में सरकार को चाहिए कि राज्य को अकाल क्षेत्र घोषित कर किसानों के हित के लिए घोषनाएं करें.

इसे भी पढ़ें : बेहाल हुआ आरयू का परीक्षा विभाग, परीक्षा नियंत्रक बदलने के बाद भी कम नहीं हुई छात्रों की समस्या

भाकपा के बैनर तले होगा जोरदार आंदोलन

पूर्व सांसद ने डीवीसी के बोकारो थर्मल पावर प्लांट मेें सीएचपी के मरम्मत एवं रख रखाव को काम करने वाली कंपनी मेसर्स लोकनाथ में काम करने वाले 12 मजदूरों को काम से हटाये जाने के मसले पर प्रोजेक्ट हेड कमलेश कुमार से बात कर सभी को तय मापदंडों के आधार पर पुनः काम पर रखने की बात कही. उन्होंने कहा कि यदि हटाये गये मजदूरों को काम पर नहीं रखा गया. तो भाकपा के बैनर तले जोरदार आंदोलन किया जाएगा. पूर्व सांसद के साथ राज्य कार्यकारिणी के सदस्य मो शाहजहां, सचिव ब्रजकिशोर सिंह, डीवीसी मजदूर यूनियन के जानकी महतो, रंजीत राम, मुनीलाल राम, रंजीत ठाकुर, मो इरशाद, माथुरलाल ठाकुर, संतोष यादव, नरेश राम, तारांचद राम आदि मौजूद थे.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: