BokaroJharkhand

बेरमो : नावाडीह के जमीन विवाद में घायल युवक की बीजीएच में मौत

विज्ञापन

Bermo ; बेरमो अनुमंडल के नावाडीह थाना क्षेत्र अंतर्गत परसबनी गांव में जमीन विवाद को लेकर दो गुटों में हुई हिंसक झड़प में घायल महेंद्र प्रसाद महतो नामक युवक की मौत सोमवार को बोकारो जेनरल अस्पताल में इलाज के दौरान हो गयी. युवक की मौत की सूचना पाकर डुमरी के विधायक जगरनाथ महतो ने बीजीएच अस्पताल पहुंचकर मामले की जानकारी ली तथा अपने स्तर से प्रभावित परिजनों को सहयोग करने का आश्वासन दिया. विधायक ने अपने खर्चे से   शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजवाया.

22 मई को जमीन विवाद के कारण दो गुटों में हुई थी हिंसक झड़प

नावाडीह के परसबनी की घटना के संबंध में जानकारी देते हुए घायल हुए महेंद्र के भाई युगल किशोर महतो ने बताया कि 22 मई की शाम को जमीन को लेकर हुए विवाद में पड़ोस में रहने वाले बैजनाथ महतो,उसकी पत्नी तारा देवी,सुरेंद्र महतो,पत्नी लीलावती देवी,गोविंद महतो,छोटू महतो,रेखा देवी आदि लोगों ने मिलकर उन लोगों पर हमला बोल दिया. इस घटना में युगल किशोर महतो के साथ- साथ उसके पिता गुल्लू महतो, मां सुकरी देवी, बड़े भाई महेंद्र प्रसाद महतो, भाभी बेलिया देवी के अलावा बबलू महतो, प्रवीण महतो,युगल किशोर महतो,मीना देवी और भागीरथ महतो गंभीर रूप से घायल हो गये थे. घायलों में से महेंद्र प्रसाद महतो ने इलाज के दौरान सोमवार को बोकारो जनरल अस्पताल में दम तोड़ दिया.

आरोपियों को गिरफ्तार करने की मांग

घटना में घायल युगल किशोर का कहना था कि दूसरे गुट के लोगों ने अचानक उनलोगों पर हमला कर दिया था. घटना के दिन से ही उसकी घायल मां सुकरी देवी बीजीएच में इलाजरत है. जबकि भतीजा प्रवीण को बेहतर इलाज के लिए रिम्स रेफर किया गया है. युगल किशोर ने कहा कि अगर नावाडीह पुलिस मामले में तत्काल कार्रवाई करते हुए आरोपियों को गिरफ्तार नहीं करती है तो वे लोग पूरे परिवार के साथ आत्महत्या कर लेंगे.

advt

बताया जा रहा है कि इस संबंध में दो लोगों को हिरासत में लिया गया है. पुलिस इस मामले की जांच कर रही है.विधायक जगरनाथ महतो ने कहा कि इस संदर्भ में जो भी आरोपी हैं, उनके खिलाफ कड़ी से कड़ी कानूनी कार्रवाई होनी चाहिए और इसके लिए वह अपने स्तर से भी प्रयास करेंगे.

advt
Advertisement

Related Articles

Back to top button