न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

बेरमोः कोयला के अवैध कारोबार पर शिकंजा, 200 टन अवैध कोयला जब्त

बेरमो एसडीएम और एसडीपीओ के नेतृत्व में कार्रवाई

645

Bermo: बेरमो अनुमंडल के गोमिया प्रखंड में कोयले के अवैध कारोबार को लेकर प्रशासन ने बड़ी कार्रवाई की है. नक्सल प्रभावित रहावन में बेरमो पुलिस ने गुप्त सूचना के आधार पर मंगलवार की रात अवैध कोयले के खिलाफ छापेमारी अभियान चलाया. छापामारी में बेरमो पुलिस ने लगभग 200 टन से ज्यादा अवैध कोयला जब्त किया.

इसे भी पढ़ें – झारखंड कांग्रेस : रांची से सुबोधकांत, सिंहभूम से गीता कोड़ा और लोहरदगा से सुखदेव भगत लड़ेंगे चुनाव

अवैध कोयला के खिलाफ छापेमारी अभियान का नेतृत्व बेरमो एसडीएम प्रेम रंजन और बेरमो एसडीपीओ आर राम कुमार के द्वारा किया जा रहा था. छापेमारी के बाद पुलिस जब्त अवैध कोयले को थाना लाने की तैयारी में जुटी थी.

गुप्त सूचना के आधार पर कार्रवाई

बेरमो एसडीपीओ आर रामकुमार को गुप्त सूचना मिली थी कि गोमिया के नक्सल प्रभावित रहावन थाना क्षेत्र से अवैध कोयले की तस्करी की जाती है.

और काफी मात्रा में डीपू में अवैध कोयला जमा कर रखा गया है. सूचना के आधार पर बेरमो एसडीएम एवं बेरमो एसडीपीओ के नेतृत्व में छापेमारी की गयी. इस कार्रवाई में पुलिस के जवानों के साथ सीआरपीएफ के जवान भी शामिल थे.

Related Posts

#JAP4  बोकारो ने बिना मेडिकल टेस्ट लिये जारी कर दिया ‘नियुक्त’ अभ्यर्थियों का परिणाम

12 सितंबर को चयनित अभ्यार्थियों के नाम प्रकाशित होने के बाद दो कर्मचारियों को किया गया निलंबित 

इसे भी पढ़ें – कांग्रेस जब-जब सत्ता में आती है, शासन उल्टी दिशा में चलने लगता है : मोदी

झाड़ियों में छिपाकर रखा गया था कोयला

एसडीपीओ रामकुमार ने बताया कि रहावन थाना के समीप नदी किनारे झाड़ियों में छिपा कर अवैध कोयला को रखा गया था. छापेमारी में लगभग 200 टन से ज्यादा अवैध कोयला जब्त किया गया है.

इसे भी पढ़ें – हेमंत सोरेन का स्थायी पता पूछनेवाली बीजेपी पर जेएमएम का पलटवार, कहा ‘खौफ में भाजपा नेता, कर रहे मूर्खतापूर्ण सवाल’

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
क्या आपको लगता है हम स्वतंत्र और निष्पक्ष पत्रकारिता कर रहे हैं. अगर हां, तो इसे बचाने के लिए हमें आर्थिक मदद करें.
आप अखबारों को हर दिन 5 रूपये देते हैं. टीवी न्यूज के पैसे देते हैं. हमें हर दिन 1 रूपये और महीने में 30 रूपये देकर हमारी मदद करें.
मदद करने के लिए यहां क्लिक करें.-

you're currently offline

%d bloggers like this: