NEWSWING
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

बेंगलुरू : ट्रैफिक नियमों को तोड़ा, तो यमराज आपका पीछा नहीं छोड़ने वाले

109

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

steel 300×800

Bangaluru : बेंगलुरू की सड़कों पर वाहन चलाते हुए यदि आपने यमराजको तोड़ा, तो यमराज आपको नहीं छोड़ने वाले. अब आपकी खैर नहीं है. यमराज इतनी आसानी से आपका पीछा नहीं छोड़ेंगे.  आपको इस बात का अहसास कराकर दम लेंगे कि आपने बहुत बड़ी गलती की है.आगे से ऐसी गलती नहीं करें. बता दें कि बेंगलुरू ट्रैफिक पुलिस द्वारा सड़क दुर्घटना और ट्रैफिक नियमों के उल्‍लंघन को लेकर जागरुकता अभियान चलाया जा रहा है. इसके तहत लोगों को सचेत किया जा रहा है कि सड़क नियमों का उल्‍लंघन आपकी जान के लिए कितना बड़ा खतरा बन सकता है.

   इसे भी पढ़ें- आखिरकार केंद्रीय मंत्री जयंत सिन्हा ने मांग ली माफी, आरोपियों को माला पहनाने पर हो रही थी आलोचना

ट्रैफिक पुलिस के अभियान में दिलचस्प नजारा देखने को मिल रहा है

बेंगलुरू ट्रैफिक पुलिस के अभियान में दिलचस़्प नजारा देखने को मिल रहा है. ट्रैफिक पुलिस के यमराज जिन बाइक सवारों ने हेलमेट नहीं पहना था, उनके पीछे गदा लेकर दौड़ते हुए भी नजर आते हैं. बता दें कि ट्रैफिक नियम तोड़ने वालों को चेताने के लिए यमराज का रूप धारण किये कलाकार का उपयोग किया गया है. यमराज के वेश में कलाकार यातायात के नियमों का उल्लंघन करने वालों को चेतावनी देते हुए समझाते हैं कि अगर वे ट्रैफिक नियमों का पालन नहीं करते हैं तो यमराज उनके घर आयेंगे. ये आइडिया हलासुरु गेट यातायात पुलिस का था.

pandiji_add

यमराज बने कलाकार का नाम वीरेश है

यातायात पुलिस ने लोगों में ट्रैफिक नियमों के प्रति जागरुकता फैलाने के लिए यमराज को अपना ब्रैंड एम्बेसडर बनाया है, ताकि लोगों में यह संदेश जाये कि अगर वे हेलमेट पहने बगैर लापरवाही से वाहन चलाते हैं या यातायात नियमों का उल्लंघन करते हैं तो यह उनके जीवन के लिए खतरनाक हो सकता है.  यमराज बने कलाकार का नाम वीरेश है. उन्होंने उन मोटर चालकों को चेतावनी दी जो यातायात नियमों का उल्लंघन कर रहे थे. इस कार्यक्रम का उद्देश्य पैदल चलने वालों और मोटर चालकों, दोनों के बीच जागरुकता पैदा कर दुर्घटना की  संख्या को कम करना है.

यमराज ने हेलमेट नहीं पहनने वाले बाइक सवारों को रोका और उनसे यातायात नियमों का पालन करने की अपील की और इसके साथ ही उन्हें गुलाब के फूल दिये.  यातायात पुलिस के उपायुक्त अनुपम अग्रवाल के अनुसार जुलाई माह  सड़क सुरक्षा माह के तौर मनाया जा रहा है. हम लोग स्कूल कॉलेजों में भाषण और नुक्कड़ नाटक जैसे कई कार्यक्रम भी करने वाले हैं. हमने यम नामक चरित्र के इस्तेमाल का विचार किया,  ताकि लोगों में यह संदेश फैला सकें कि अगर उन्होंने यातायात नियमों का पालन नहीं किया तो यमराज उनके घर आ जायेगा.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं. 

Hair_club

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed.