JamshedpurJharkhandLIFESTYLE

Bengali New Year 2022: बंगाल क्‍लब के सौ साल पूरे होने पर व‍िशेष कार्यक्रम, टैगोर सोसाइटी में रवींद्र संगीत

Jamshedpur : आज बांग्‍ला नववर्ष है यानी पोईला बोइशाख. आज ही जमशेदपुर के बंगाल क्लब के 100 साल पूरे हुए. इस मौके पर विशेष कार्यक्रम का आयोजन किया गया. क्लब के नए भवन का उद्घाटन राज्य के मंत्री बन्ना गुप्ता ने क‍िया. मौके पर जमशेदपुर पूर्वी के विधायक सरयू राय, जुगसलाई विधायक मंगल कालिंदी समेत क्लब के तमाम पदाधिकारी मौजूद रहे. तमाम सदस्यों ने मौजूद अतिथियों का स्वागत किया. अतिथियों ने बंगाल क्लब के 100 वर्ष के गौरवशाली इतिहास की सराहना की. साथ ही सभी को बांग्‍ला नववर्ष की शुभकामनाएं देते हुए क्लब के उज्ज्वल भविष्य की कामना की.
रवींद्र संगीत अनुष्‍ठान का आयोजन


पोइला बोइशाख के अवसर पर जमशेदपुर के टैगोर सोसाइटी सभागार में विशेष रवींद्र संगीत अनुष्ठान का आयोजन किया गया जहां बड़ी संख्या में बंगाली समुदाय के लोग शामिल होकर इसका आनंद ल‍िया. हर वर्ष नए साल के आगमन पर यहां रवींद्र संगीत गायन अनुष्ठान का आयोजन किया जाता है.बंगाली समुदाय के लोग इस विशेष दिन पर सुबह पूजा -पाठ करते हैं, जिसके बाद रवींद्र संगीत सुनकर ही अपने दिनचर्या की शुरुआत करते हैं.
शुभो नोबो बोरसो बोलकर देते नए साल की शुभकामनाएं


हर साल चैत्र का महीना खत्म होते ही बंगाली नववर्ष मनाया जाता है. बंगाल में इसे पोइला बोइशाख कहते हैं. ये वैशाख महीने का पहला दिन होता है. इस दौरान बंगाली लोग नए कपड़े पहनते हैं और अच्छे पकवान बनाते हैं. एक – दूसरे को नए साल की बधाई देते हैं. इस दिन बंगाली लोग एक -दूसरे को शुभो नोबो बोरसो बोलकर नए साल की शुभकामनाएं देते हैं. शुभो नोबो बोरसो का मतलब होता है- नया साल मुबारक हो. बंगाल में वैशाख का महीना काफी शुभ माना जाता है. वैशाख के महीने में बंगाली लोग सारे शुभ काम करते हैं जिसमें नया बही- खाता शुरू करने से लेकर शादी-विवाह, गृह-प्रवेश, मुंडन, घर खरीदने जैसे कार्य शामिल हैं.

ये भी पढ़ें-Jamshedpur Night Crime : बिस्कुट-चॉकलेट व्यापारी से पिस्टल सटाकर तीन लाख की लूट. स्कूटी भी लेकर भागे अपराधी

Related Articles

Back to top button