BiharCrime News

बेगूसराय : दो अलग-अलग मामलों में दो पत्नियों ने कराई पति की हत्या, एक मामले में गोली मारी, दूसरे में रेत दिया गला

Begusrai : पति पत्नी का रिश्ता विश्वास पर टिका होता है. लेकिन जिले में हत्या की दो ऐसी वारदात सामने आई हैं, जहां दो लोगों के निर्मम हत्या में पत्नी का नाम शामिल है. इन दोनों ही घटना में पुलिस ने दोनों ही पत्नियों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है.

पहली घटना पोखरिया मुहल्ले की है जहां 20 अक्टूबर को नगर थाना क्षेत्र के पोखरिया वार्ड नंबर 36 में एक युवक की निर्मम हत्या गोली मारकर कर दी गई. बेहद ही शातिराना अंदाज में उसके शव को उसके रूम तक पहुंचा दिया गया. लोगों को इसकी भनक उस वक्त लगी जब शाम तक युवक अपने रूम से बाहर नहीं निकला. मृतक की पहचान पोखरिया वार्ड नंबर 36 के रहने वाले स्वर्गीय श्याम सुंदर पासवान के 32 वर्षीय पुत्र सुशांत कुमार पासवान उर्फ पिंटू कुमार पासवान के रूप में की गई. इस मामले में पहले से ही हत्या की सुई पत्नी और ससुराल वालों पर जा रही थी. हत्या के बाद पत्नी का रो-रोकर बुरा हाल था. कहीं से भी ये नहीं कहा जा सकता था कि इस हत्या के पीछे पत्नी का हाथ हो सकता था. इस मामले में मृतक के परिजनों ने पत्नी के अवैध संबंध को वजह बताकर पत्नी, सास, ससुर, साला और अन्य लोगों को अभियुक्त बनाया है.

इसे भी पढ़ें :  JHARKHAND : पंचायत चुनाव को लेकर जोड़े गये नये प्रावधान, उम्मीदवार जान लें नहीं तो भुगतना होगा परिणाम

Catalyst IAS
ram janam hospital

ये है दूसरी घटना

 

The Royal’s
Pushpanjali
Sanjeevani
Pitambara

दूसरी घटना 21 अक्टूबर को बीरपुर थाना क्षेत्र के पर्रा गांव से सामने आई. जब एक ड्राइवर की धारदार हथियार से निर्मम हत्या कर उसके शव को घर से 50 फीट की दूरी पर फेंक दिया गया. ब्लाइंड मर्डर में कहीं से भी ये अंदाज नहीं लगाया जा सकता था कि हत्या में पत्नी नीतू का हाथ भी हो सकता है, पर मृतक के सात वर्षीय पुत्र ने जब हत्या का राज उगला तो पत्नी का चेहरा बेनकाब हो गया.

इस मामले में नीतू ने हत्या में खुद के शामिल होने की बात कबूल कर लिया है. कबूलनामे में नीतू ने बताया कि पति बहुत शराब पीता था. दोनों में कहासुनी हुआ करती थी. अक्सर उससे मारपीट किया करता था. इसी बीच उसका प्रेम गौतम कुमार नामक युवक से हो गया, जो बछवाड़ा थाना क्षेत्र का रहने वाला था.

इसी सिलसिले मे प्रेमी गौतम ने अपने एक अन्य दोस्त के साथ मिलकर मंतोष कुमार की घर में ही धारदार हथियार से गला रेत कर हत्या कर दी. उसके बाद शव को घर के आंगन से 50 फीट दूर पर फेंक दिया. जिसे उसके सात वर्षीय पुत्र ने देख लिया था.

इसे भी पढ़ें : मुजफ्फरपुर : महिला बैंककर्मी ने सहकर्मी पर लगाया दुष्कर्म का आरोप

Related Articles

Back to top button