न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

रिजर्व बैंक की मौद्रिक नीति की घोषणा से पहले नये शिखर पर पहुंचा घरेलू शेयर बाजार

शुरुआती कारोबार में रुपया पांच पैसे कमजोर

489

Mumbai: रिजर्व बैंक की द्वैमासिक नीतिगत बैठक के नतीजों से पहले बुधवार को शुरुआती कारोबार में सेंसेक्स 80 अंक की बढ़त लेकर नये सर्वकालिक उच्च स्तर 37,690.23 अंक पर पहुंच गया. निफ्टी भी नये उच्चस्तर पर 11,378.95 अंक पर पहुंच गया. बंबई शेयर बाजार का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 83.65 अंक यानी 0.22 प्रतिशत की बढ़त लेकर 37,690.23 अंक पर पहुंच गया. सेंसेक्स लगातार पिछले सात कारोबारी दिवसों में 1,110.21 अंक मजबूत हुआ है.

इसे भी पढ़ेंः 23 बीमा कंपनियों के पास 15,167 करोड़ रुपये जमा, कोई दावा करने वाला नहीं

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 22.45 अंक यानी 0.19 प्रतिशत की बढ़त के साथ 11,378.95 अंक पर रहा. तेल एवं गैस, एफएमसीजी, पीएसयू, धातु और बैंकिंग समूहों की अगुआई में सारे समूह 0.95 प्रतिशत तक की तेजी में रहे.

ब्रोकरों ने कहा कि मौद्रिक नीति समीक्षा बैठक के नतीजों की घोषणा से पहले निवेशकों ने अपनी बोलियां बढ़ायी तथा विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों ने भी लिवाली में दिलचस्पी दिखायी.

बड़ी कंपनियों में बजाज ऑटो, वेदांता, टीसीएस, भारती एयरटेल, कोटक बैंक, इंडसइंड बैंक, महिंद्रा एंड महिंद्रा, आईटीसी, भारतीय स्टेट बैंक, मारुति सुजुकी, एशियन पेंट्स, रिलायंस इंडस्ट्रीज, कोल इंडिया, एक्सिस बैंक और यस बैंक के शेयर 1.64 प्रतिशत तक चढ़े. वही टाटा मोटर्स, एक्सिस बैंक, एनटीपीसी, इंफोसिस और एचडीएफसी नुकसान में रहीं.

इसे भी पढ़ेंः सोना हो सकता है महंगा , जून से 4.33% की गिरावट दर्ज

इस बीच पिछले दिवस के कारोबार में विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों ने 572.21 करोड़ रुपये की शुद्ध लिवाली की जबकि घरेलू संस्थागत निवेशक 290.87 करोड़ रुपये के शुद्ध बिकवाल रहे. वॉल स्ट्रीट में मंगलवार को आयी तेजी के बाद एशियाई बाजार बुधवार को शुरुआती कारोबार में तेजी में रही. जापान का निक्की 0.54 प्रतिशत, हांग कांग का हैंग सेंग 0.35 प्रतिशत और चीन का शंघाई कंपोजिट 0.21 प्रतिशत की बढ़त में रहे.

अमेरिका का डाउ जोन्स इंडस्ट्रियल एवरेज मंगलवार को 0.43 प्रतिशत बढ़कर बंद हुआ.

palamu_12

इसे भी पढ़ेंः सुधांशु मित्तल के साले की कंपनी पर 10 हजार करोड़ रुपये की ठगी का आरोप

शुरुआती कारोबार में रुपया पांच पैसे कमजोर

रिजर्व बैंक की मौद्रिक नीति समीक्षा बैठक के नतीजों से पहले अंतरबैंकिंग मुद्रा बाजार में रुपया बुधवार को शुरुआती कारोबार में पांच पैसे कमजोर होकर 68.59 रुपये प्रति डॉलर पर रहा. डीलरों ने कहा कि अमेरिकी डॉलर की ताजी मांग आने से रुपया कमजोर हुआ है. हालांकि घरेलू बाजारों के बढ़त में खुलने से रुपये की गिरावट पर लगाम रही.

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप द्वारा 10 प्रतिशत की जगह 25 प्रतिशत शुल्क लगाने के खबरों के बाद विदेशी बाजारों में अधिकांश प्रमुख मुद्राएं डॉलर के मुकाबले कमजोर रहीं. अमेरिकी फेडरल रिजर्व और बैंक ऑफ इंग्लैंड की नीतिगत बैठकों से पहले निवेशकों ने सतर्कता बरती. मंगलवार को रुपया 13 पैसे मजबूत होकर दो सप्ताह के उच्चतम स्तर 68.54 रुपये प्रति डॉलर पर बंद हुआ था.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

%d bloggers like this: