न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

सीटों के बंटवारे से पहले बिहार में अपनी स्थिति जानने में जुटी कांग्रेस, पार्टी का सर्वेक्षण

दो स्तर पर कराया जा रहा सर्वे

170

Patna: बिहार में लोकसभा चुनाव के लिए राजद के साथ सीटों के बंटवारे के संबंध में बातचीत शुरू करने से पहले कांग्रेस राज्य में अपनी स्थिति का आकलन करने के लिए सर्वेक्षण करा रही है. हाल ही में शुरू हुआ कांग्रेस का सर्वेक्षण दो स्तरों पर हो रहा है. एक तरफ पार्टी अपने स्तर से विभिन्न लोकसभा सीटों का सर्वेक्षण करा रही है, तो दूसरी तरफ ‘स्वतंत्र सर्वेक्षण’ के लिए उसने एक सर्वेक्षण एजेंसी की भी सेवा ली है.

इसे भी पढ़ें- फिर किनारे किये गये काबिल अफसर, काम न आया भरोसा- झारखंड छोड़ रहे आईएएस

बिहार में कांग्रेस की क्या है स्थिति

hosp3

कांग्रेस के इस कदम से जुड़े सूत्रों का कहना है कि, पार्टी के यह दोनों सर्वेक्षण मुख्य रूप से सीमांचल और उन क्षेत्रों पर ज्यादा केंद्रित हैं. जहां हालिया लोकसभा चुनावों में पार्टी ने अच्छा प्रदर्शन किया था. पार्टी के बिहार प्रभारी शक्ति सिंह गोहिल ने सर्वेक्षण की पुष्टि करते हुए कहा कि इसका मुख्य लक्ष्य यह पता करना है कि विभिन्न सीटों पर कांग्रेस की मौजूदा स्थिति क्या है.

दो स्तर पर पार्टी सर्वेक्षण

गोहिल ने ‘भाषा’ के साथ बातचीत में कहा कि हमारा सर्वेक्षण दो तरह से हो रहा है. पहला सर्वेक्षण पार्टी की तरफ से कराया जा रहा है. दूसरा स्वतंत्र सर्वेक्षण कराया जा रहा है. इसका मकसद यह पता करना है कि विभिन्न सीटों पर हमारी क्या स्थिति है और हमें क्या करना होगा. यह पूछे जाने पर कांग्रेस राज्य की 40 लोकसभा सीटों में से कितनी सीटों पर दावेदारी पेश करेगी, गोहिल ने कहा कि अभी इस बारे में बात नहीं हुई है.

इसे भी पढ़ेंःगैरमजरूआ जमीन को वैध बनाने का चल रहा खेल, राजधानी के पुंदाग में खाता संख्या 383 की काटी जा रही लगान रसीद

राजद हमारा बहुत पुराना और मजबूत वैचारिक सहयोगी है. सीटों के बारे हम सभी सहयोगी दल (मांझी सहित) मिलकर उचित समय पर निर्णय कर लेंगे. कांग्रेस ने 2014 के लोकसभा चुनाव में राजद के साथ गठबंधन में बिहार की 12 सीटों पर चुनाव लड़ा था और उसे 8.40 फीसदी वोट और दो सीटें मिलीं थीं.

2019 के लिए सुधरी स्तिथि ?

पार्टी सूत्रों के मुताबिक, 2019 में कांग्रेस खुद को 2014 के मुकाबले ज्यादा मजबूत स्थिति में मानती है और इस बार उन सीटों को पहले से चिन्हित कर लेना चाहती है, जहां उसकी जीत की अधिक संभावना रहेगी. बिहार में पार्टी की गतिविधि को देख रहे कांग्रेस के एक नेता ने कहा, ‘हम कितनी सीटों पर लड़ेंगे, इससे ज्यादा महत्वपूर्ण यह तय करना है कि हम कितनी सीटें जीत सकते हैं. इसलिए सर्वेक्षण में हम उन सीटों को चिन्हित कर लेना चाहते हैं जहां हम जीतने की स्थिति में हैं.’

इसे भी पढ़ें- NEWS WING IMPACT:  प्रशासन ने की सख्ती, पाकुड़ में बंद हुआ अवैध बालू उठाव

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

You might also like
%d bloggers like this: