न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

2014 से पहले देश में एक मौनी बाबा का शासन रहा, जिन्होंने देश को अंधा बना दिया था : उषा पांडेय

प्रियंका चतुर्वेदी का पार्टी से इस्तीफा देना स्पष्ट करता है कि पार्टी में महिलाओं के लिए स्थान नहीं

52

Ranchi : महिला सुरक्षा और महिला सशक्तिकरण की बात करने वाली कांग्रेस पार्टी अपने ही पार्टी की महिला कार्यकर्ता का सम्मान नहीं कर पायी. प्रियंका चर्तुवेदी कांग्रेस पार्टी में दस सालों से सक्रिय भूमिका निभा रही थीं.

अपने कार्यों के कारण उन्होंने पार्टी में अपनी जगह बनायी. इसके बावजूद पार्टी उनको महत्व नहीं दे पाई. उक्त बातें भाजपा महिला मोर्चा की अध्यक्ष उषा पांडेय ने कहा.

वे भाजपा प्रदेश कार्यालय में आयोजित प्रेस वार्ता को संबोधित कर रही थीं. उन्होंने कहा कि जो सरकार महिला सुरक्षा और सशक्तिकरण पर कार्य कर रही है, उसे कांग्रेस पार्टी चोर कहती है.

उन्होंने कहा कि संविधान की ओर से महिलाओं को अपने खिलाफ हो रहे बदसलूकी पर एक्शन लेने का अधिकार है. लेकिन कांग्रेस पार्टी ने प्रियंका से ये अधिकार भी छीना है. उल्लेखनीय है कि प्रियंका चर्तुवेदी ने कांग्रेस से इस्तीफा देकर शिवसेना ज्वाइंन किया है.

क्योंकि प्रियंका मुंबई से चुनाव लड़ना चाहती थीं और पार्टी से टिकट नहीं मिलने की वजह से वह नाराज चल रही थी. ऐसा उनके इस्तीफा देने के बाद कहा जा रहा है.

इसे भी पढ़ें – रघुवर ने कहा-जेएमएम ने रोका है आदिवासियों का विकास, जवाब मिला “गजनी हैं आप”

अखिल भारतीय कांग्रेस को दी थी जानकारी

उषा बताया कि प्रेस वार्ता में कहा कि प्रियंका के साथ कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने ही अपमानजनक व्यवहार किया. जिसके बाद उन्होंने अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी को इस संबध में जानकारी दी. कुछ समय के लिए कुछ कार्यकर्ताओं की सदस्यता रद्द जरूर की गई.

लेकिन कुछ समय बाद ही उनका निलंबन वापस ले लिया गया. उषा ने कहा कि इसके बावजूद कांग्रेस ने इस संबध में प्रियंका से कोई राय नहीं लिया. जिससे नाराज प्रियंका ने इस्तीफा दिया. ये पूरा प्रकरण दर्शाता है कि पार्टी में महिलाओं की कोई इज्जत नहीं है.

मौनी बाबा के काल में देश अंधा बना

उन्होंने कहा कि अब जब भाजपा के काल में महिलाओं के लिए महत्वपूर्ण कार्य देश में हुए. तो प्रधानमंत्री को चोर कहा जा रहा है. जो एक अक्षम्य अपराध है.

वहीं 2014 के पहले दस सालों तक एक मौनी बाबा को कांग्रेस ने प्रधानमंत्री बनाकर देश को अंधा बनाने का काम किया. ऐसे में इस चुनाव में जनता ही कांग्रेस को जवाब देगी.

इसे भी पढ़ें – बागी हुए जेएमएम विधायक जयप्रकाश भाई पटेल, कहा-चुनाव में बीजेपी का करूंगा प्रचार

एक अंक की पार्टी न बन जाए

पिछले चुनाव में कांग्रेस पार्टी को जनता ने दो अंकों वाली सरकार बनाया था. वहीं इस चुनाव में ऐसा न हो कि कांग्रेस एक अंक की सरकार बन कर रह जाए. महिलाओं के साथ जिस तरह पार्टी में अभ्रदता की जा रही है. उससे स्पष्ट है कि देश की महिलाएं ही कांग्रेस पार्टी को जवाब दे देगी.

महिलाओं की नैसर्गिक अधिकारों पर न हो टिप्पणी

उषा ने कहा कि राज्य की भी स्थिति ऐसी ही है. पिछले दिनों बंधु तिर्की ने भी एक टीवी चैनल को दे रहे साक्षात्कार में इजरायल गई किसान महिलाओं के उपर टिप्पणी की थी. जिसमें कहा गया था कि लिपिस्टक लगाने वाली महिलाएं इजरायल गई हैं.

वहीं दिग्विजय सिंह जैसे नेताओं ने भी कई बार ऐसे बयान दिए हैं. ऐसे में स्पष्ट है कि क्या महिलाएं अपने शौक भी पूरे नहीं कर सकतीं. महिलाओं के नैसर्गिक अधिकारों पर कभी भी टिप्पणी नहीं की जानी चाहिए.

इसे भी पढ़ें – लेफ्ट पार्टीः खाता ना खुलने की लगेगी हैट्रिक या दर्ज करेंगे जीत

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

hosp22
You might also like
%d bloggers like this: