Crime NewsJharkhandLead NewsMain SliderNationalNEWSRanchi

BE ALERT (पार्ट टू) :  इस तरह सुरक्षित रखें अपने क्रेडिट और डेबिट कार्ड का ओटीपी

Ranchi :  मौजूदा दौर में क्रेडिट व डेबिट कार्ड रखना मजबूरी बन चुकी है. साइबर अपराधी इन्हीं दोनों कार्डों का ओटीपी हासिल कर ठगी करते हैं. साइबर अपराधियों से क्रेडिट व डेबिट कार्ड को बचाये रखना चुनौती की तरह है. आइये, रांची साइबर सेल डीएसपी यशोधरा से जानते हैं, कैसे साइबर अपराधियों से क्रेडिट व डेबिट कार्डों को सुरक्षित जाये.

 

अपने कार्ड के पिन नंबर को किसी के साथ भी साझा न करें. पिन नंबर को अपने पर्स या वॉलेट में कहीं भी न लिखकर रखें. रिटेल स्टोर्स,  मेट्रो स्टेशन,  हवाई अड्डे जैसे स्थानों पर लगे एटीएम से पैसा न निकालें. इन जगहों पर चोरों द्वारा स्किमिंग डिवाइस लगाये जाने का खतरा अधिक रहता है. अनजान वेबसाइट से खरीद-बिक्री से भी परहेज करना चाहिए.

इन बातों का रखें खास ख्याल

– अपने बैंक खाते में लॉग इन करने के लिए कभी भी पब्लिक प्लेस पर लगे हुए वाईफाई का इस्तेमाल न करें. किसी भी वेबसाइट पर अपनी गोपनीय जानकारी देने से पहले यह सुनिश्चित कर लें कि क्या वेबसाइट उचित एन्क्रिप्शन का उपयोग कर रही है. एन्क्रिप्शन एक सुरक्षा उपाय है जो इंटरनेट पर विभिन्न नेटवर्क पर यात्रा करते समय डेटा की सुरक्षा में मदद करता है. एटीएम का जब भी इस्तेमाल करें तो एक बात याद रखें कि मशीन द्वारा निकाली रिसीप्ट को कभी भी इधर-उधर न फैके क्योंकि उसमे आपके खाते से जुड़ी अहम जानकारियां होती है जिसका गलत इस्तेमाल किया जा सकता है.

– अपने डेबिट कार्ड,  क्रेडिट कार्ड या नेट बैंकिंग के पासवर्ड को कभी भी सोशल साइट्स पर शेयर न करें. साइबर अपराधी बैंकिग कार्ड का इस्तेमाल कर धड़ल्ले से साइबर अपराध की घटना को अंजाम दे रहें हैं. आपका क्रेडिट कार्ड या डेबिट कार्ड किसी करणवश चोरी या गुम हो जाएं तो बिना समय गवाएं तुरंत अपने बैंक को इसके बारे में अवगत कराएं.

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: