न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

बाटा ने कैरी बैग के वसूले तीन रुपये, अब देने पड़ेंगे नौ हजार

कंज्यूमर फोरम के फैसले से कैरी बैग के लिए पैसे लेने का सिलसिला रुक सकता है.

913

Chandigarh: अक्सर बड़े-बड़े शॉपिंग मॉल में खरीददारी करने के बाद सामान के साथ-साथ कैरी बैग के पैसे भी आपने चुकाये होंगे. लेकिन चंडीगढ़ में बाटा इंडिया के एक आउटलेट को कैरी बैग के पैसे लेना महंगा पड़ा और उसे कस्टमर को 9 हजार रुपये जुर्माना देने को कहा गया है. इस शिकायत के बाद कैरी बैग के लिए पैसे लेने का सिलसिला रुक सकता है.

इसे भी पढ़ेंःजेट एयरवेज हो सकता है बंद, मैनेजमेंट ने बोर्ड को दिया प्रस्ताव, समीक्षा के निर्देश

दरअसल, चंडीगढ़ के रहनेवाले दिनेश प्रसाद रतूड़ी ने 5 फरवरी को सेक्टर 22डी के एक बाटा स्टोर से एक जोड़ी जूते खरीदे थे. इसके लिए उन्होंने बिल भी चुकाया, लेकिन जूते के 402 रुपये के साथ-साथ स्टोर ने पेपर कैरी बैग के लिए तीन रुपये भी वसूले.

hosp3

दिनेश ने इसकी शिकायत कंज्यूमर फोरम में कर दी. नियमों के मुताबिक अलग से कैरी बैग की कीमत नहीं वसूली जा सकती. रतूड़ी ने कहा कि कैरी बैग के जरिये बाटा अपना प्रचार भी कर रही थी, जो किसी भी हालत में जायज नहीं है.

कस्टमर की शिकायत पर कंज्यूमर फोरम ने बाटा की खिंचाई की और कहा कि कंपनी उसे नौ हजार रुपये दे.

इसे भी पढ़ेंःघाटे के मामले में इंडिया पोस्ट ने एयर इंडिया और BSNL को भी पीछे छोड़ा, हुआ 15 हजार करोड़ का घाटा

कैरी बैग के लिए पैसे लेना सर्विस में खामी

मामले की शिकायत कंज्यूमर फोरम करते हुए रतूड़ी ने तीन रुपये लौटाने और सर्विस में कमी के लिए हर्जाने की भी मांग की थी. हालांकि, मामले पर बाटा का कहना था कि उसकी सर्विस में कोई कमी नहीं थी.

लेकिन फोरम का मानना है कि कस्टमर को पेपर बैग के लिए पैसे देने के लिए बाध्य करना सीधे-सीधे सर्विस में खामी का मामला है. साथ ही कहा कि यह स्टोर की ड्यूटी है कि वह सामान खरीदने वालों को फ्री में कैरी बैग दे.

साथ ही कहा कि अगर कंपनी सचमुच पर्यावरण के लिए चिंतित है तो उसे पर्यावरण को नुकसान न पहुंचाने वाली चीजों से बने कैरी बैग का इस्तेमाल करना चाहिए.

फैसले से ग्राहकों को मिलेगी राहत?

चंडीगढ़ कंज्यूमर फोरम का ये फैसला ग्राहकों के लिए राहत की खबर हो सकती है. इस फैसले से स्टोर या शो-रूम में कैरी बैग के लिए पैसे लेने का चलन बंद हो सकता है. बता दें कि मॉल या शो-रूम में सामान के साथ दिए जाने वाले कैरी बैग के लिए अलग से पांच से लेकर 15-20 रुपये तक लिए जाते हैं.

बड़ी-बड़ी कंपनियां कैरी के बैग के पैसे भी वसूलती है और उनके जरिये अपना प्रमोशन भी करती है. जबकि माना जाता है कि सामान के साथ कैरी बैग के लिए अलग से पैसे नहीं लिए जा सकते.

इसे भी पढ़ेंःचढ़ा चुनावी बुखार, साथ ही गिरा नेताओं की भाषा का स्तर

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

You might also like
%d bloggers like this: