BusinessWorld

#Bank_Of_America के CEO ब्रायन टी मोयनिहान ने कहा, भारतीय अर्थव्यवस्था अच्छी स्थिति में है…

Davos : बैंक ऑफ अमेरिका के CEO ब्रायन टी मोयनिहान ने कहा है कि भारतीय अर्थव्यवस्था अच्छी स्थिति में है. यह सुस्ती से जूझ रही भारतीय अर्थव्यवस्था के लिए राहत भरी खबर है. जान लें कि पूर्व में अर्थशास्त्र के नोबेल पुरस्कार विजेता अभिजीत बनर्जी भी भारतीय अर्थव्यवस्था के पटरी पर लौटने का संकेत दे चुके हैं.

इसे भी पढ़ें : #US_President_Trump के 24 -26 फरवरी के बीच भारत आने की संभावना, व्यापार समझौते पर सहमति के आसार

 

भारत के पास बड़ी युवा आबादी और प्रतिभा पूल है

इस क्रम में आज बुधवार को बैंक ऑफ अमेरिका ने भी यही बात दोहराई है. खबरों के अनुसार बैंक ऑफ अमेरिका (बोफा) के CEO ब्रायन टी मोयनिहान ने कहा है कि भारतीय अर्थव्यवस्था काफी अच्छी स्थिति में है और वहां उपभोग बढ़ रहा है. कहा कि भारत के पास बड़ी युवा आबादी और प्रतिभा पूल है और इनकी क्षमता का अभी पूरा दोहन नहीं हुआ है. इस क्रम में मोयनिहान ने अमेरिका और कुल वैश्विक अर्थव्यवस्था की वृद्धि को लेकर भी भरोसा जताया.

 

उन्होंने अपनी शोध टीम के अनुमान का उल्लेख करते हुए कहा कि 2020 में वैश्विक अर्थव्यवस्था की वृद्धि दर 3.2 प्रतिशत और अमेरिका की 1.7 प्रतिशत रहेगी. मोयनिहान ने कहा, कुल मिलाकर दुनिया के बारे में हमें अच्छा महसूस होता है. यह धीमी वृद्धि का वातावरण है और हमें इसी के साथ आगे बढ़ना है.

इसे भी पढ़ें : #Budget_Session 31 जनवरी से, अर्थव्यवस्था के मोर्चे पर घिरी सरकार के लिए बजट सत्र आसान नहीं होने वाला

 

अमेरिका दुनिया की सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था 

अमेरिका के बारे में उन्होंने कहा कि हम दुनिया की सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था हैं और हम अभी भी आगे बढ़ रहे हैं. ये अच्छी बात है. मोयनिहान पिछले सप्ताह विश्व आर्थिक मंच (डब्ल्यूईएफ) की वार्षिक बैठक-2020 में भाग लेने दावोस आये थे.

भारत की बड़ी युवा आबादी से जुड़े जनांकिक लाभ और अन्य वृद्धि संभावनाओं के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा, आपके देश की सबसे अच्छी बात यह है कि यह बड़ा देश है, आगे बढ़ रहा है, आबादी युवा है, शिक्षा में सुधार हो रहा है और आपके पास प्रतिभाएं हैं. 

भारत के पास अर्थव्यवस्था के लिए काम करने को कौशल और दक्षता

मोयनिहान ने कहा, आपके पास अर्थव्यवस्था के लिए काम करने को कौशल और दक्षता है. भविष्य की पीढ़ियों के लिए वॉयस आधारित कॉल सेंटरों के मामले में श्रम की जरूरत उतनी नहीं रहेगी, लेकिन यह अधिक ज्ञान वाली अर्थव्यवस्था और चौथी औद्योगिक क्रांति के क्षेत्रों की ओर बढ़ेगी. उन्होंने कहा कि भारतीय अर्थव्यवस्था की स्थिति काफी अच्छी है और वहां उपभोग की कहानी आगे बढ़ रही है 

इसे भी पढ़ें : Karnataka : #CAA विरोधी नाटक का मंचन किया,  स्कूल के खिलाफ राजद्रोह का केस दर्ज

Telegram
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button
Close