न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें
bharat_electronics

सीबीआई का दुरुपयोग कर बंधु तिर्की को किया गया गिरफ्तार, कोलेबिरा उपचुनाव को प्रभावित करने के लिए सरकार ने किया ऐसा : झाविमो

59

Ranchi : राज्य सरकार की ओर से कोलेबिरा विधानसभा सीट पर होनेवाले उपचुनाव को प्रभावित करने के लिए सीबीआई का दुरुपयोग किया गया है, जिसके तहत झाविमो नेता बंधु तिर्की की गिरफ्तारी की गयी. उक्त बातें झाविमो के केंद्रीय सचिव राजीव रंजन मिश्रा ने मुख्यमंत्री का पुतला दहन कार्यक्रम के दौरान कहीं. उन्होंने कहा कि पांच राज्यों में शर्मनाक हार से बौखलायी भाजपा ने कोलेबिरा उपचुनाव को प्रभावित करने के लिए बंधु तिर्की को गिरफ्तार करवाया है, यह लोकतंत्र के लिए शुभ संकेत नहीं है. उन्होंने कहा कि बंधु तिर्की कोलेबिरा उपचुनाव में गठबंधन के साथी कांग्रेस के समर्थन में पिछले एक सप्ताह से कैंप किये हुए थे. इससे कांग्रेस प्रत्याशी की जीत सुनिश्चित होती दिख रही थी, इसीलिए भाजपा ने एक पुराने मामले में ऐसे समय में उन्हें गिरफ्तार करवाया है. उन्होंने कहा कि भाजपा कोलेबिरा में अपनी हार मान चुकी है, इसलिए ऐसा कुकृत्य कर रही है.

eidbanner

भाजपा की उल्टी गिनती शुरू

ग्रामीण जिलाध्यक्ष प्रभुदयाल बड़ाईक ने कहा कि पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव परिणाम आने के बाद साफ हो गया है कि भाजपा की उल्टी गिनती शुरू हो गयी है. 2019 में जनता इसका बदला लेगी. उन्होंने कहा कि इसके लिए झाविमो चरणबद्ध आंदोलन करेगा. मौके पर जितेंद्र वर्मा, बल्कु उरांव, निर्मल पाहन, सूरज टोप्पो, शिवा कच्छप, संजय टोप्पो, सूरज टोप्पो, सुरेश राणा, नदीम इकबाल, अनिता गाड़ी, मो अलाउद्दीन, राजेश लिंडा, दीपक कच्छप, रूपचंद केवट, भीम शर्मा, बबलू उरांव, संदीप तिर्की, शमीम खान, राजू महतो, एल्विन लकड़ा सहित सैकड़ों कार्यकर्ता मौजूद थे.

राजनीतिक साजिश कर रही सरकार

आदिवासी जन परिषद् के केंद्रीय अध्यक्ष प्रेम शाही मुंडा एवं सचिव रतज सिंह मुंडा ने कहा कि आजसू समर्थित भाजपा सरकार की राजनीतिक साजिश कर रही है, जिसके तहत बंधु तिर्की को गिरफ्तार किया गया. झारखंड में बढ़ती आदिवासी राजनीतिक शक्ति को कमजोर करने की साजिश की जा रही है. उन्होंने कहा कि बंधु तिर्की की गिरफ्तारी से आदिवासी समाज में आक्रोश और बढ़ गया है. तिर्की पर आय से अधिक संपत्ति का मामला है, तो सिर्फ तिर्की के ऊपर ही जांच क्यों, बाकी सभी विधायक, पूर्व मंत्रियों, नौकरशाहों, जमीन माफियाओं की भी जांच होनी चाहिए. उन्होंने कहा कि आगामी चुनाव में लोकप्रियता बनाये रखने के लिए सरकार ने ऐसा ओछा कदम उठाया है.

इसे भी पढ़ें- चुनावी बॉन्ड की 95 प्रतिशत राशि गयी बीजेपी के खाते में, सिर्फ अक्टूबर के पहले 10 दिनों में बिके 733…

इसे भी पढ़ें- 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में पूर्व मंत्री बंधु तिर्की, आय से अधिक संपत्ति का मामला

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

dav_add
You might also like
addionm
%d bloggers like this: