ChaibasaJharkhand

चाईबासा: कांग्रेस भवन में जयंती पर याद किए गए बागुन सुम्बरुई, आदर्शों को अपनाने का संकल्‍प

Chaibasa: गुरुवार को कांग्रेस भवन में बागुन सुम्बरुई की जयंती मनाई गई. सुम्बरुई ने राजनीति की शुरुआत छोटानागपुर और संथाल परगना को बिहार से अलग कर झारखंड राज्य बनाने संबंधी जन आंदोलन से की थी.  वर्ष 1967 में प्रथम बार बिहार विधानसभा का सदस्य निर्वाचित होने के उपरांत लगातार वर्ष 2009 तक निर्वाचित सदस्य रहे.  इस दरम्यान पांच बार लोकसभा और चार बार बिहार विधानसभा तथा झारखंड विधानसभा के सदस्य रहे.  राजनीति की इस लंबी अवधि में बिहार राज्य के दो बार क्रमशः वन मंत्री तथा कल्याण मंत्री रहे.

नवगठित झारखंड विधानसभा के उपाध्यक्ष तथा कांग्रेस जिलाध्यक्ष रहे.  राजनीति में उनका लंबा कार्य अनुभव तथा संघर्षरत जीवनशैली से कांग्रेसजनों को दिशा-निर्देश एवं प्रोत्साहन मिलता रहा. विभिन्न उच्च संवैधानिक पदधारक रहने के वावजूद आम नागरिकों की तरह अपने कार्यकर्ता तथा समाज के विभिन्न लोगों से सर्वत्र उपलब्ध रहकर जनसंवाद करते थे. जिसके चलते सुम्बरुई अभी भी लोगों के जनमानस में स्थान बनाये रहेंगे.

इनकी रही कार्यक्रम में मौजूदगी

ram janam hospital
Catalyst IAS

कार्यक्रम में प्रखंड अध्यक्ष दिकु सावैयां, जिला बीस सूत्री सदस्य त्रिशानु राय, वरीय कांग्रेसी कृष्णा सोय, संतोष सिन्हा, तुरी सुंडी, सांसद प्रतिनिधि विश्वनाथ तामसोय, राकेश कुमार सिंह, गणेश कोड़ा, युवा कांग्रेस नगर अध्यक्ष मो.सलीम, इंटक कार्यकारणी सदस्य विजय सिंह तुबिद, रवि कच्छप, कार्यालय सचिव सुशील कुमार दास आदि उपस्थित थे.

The Royal’s
Sanjeevani
Pitambara
Pushpanjali

ये भी पढ़ें-जमशेदपुर : मानगो से ब्राउन शुगर की खरीद-बिक्री के मामले में आसिफ गिरफ्तार, कदमा पुलिस ने गांजा बरामदगी के मामले में एक को पकड़ा

Related Articles

Back to top button