Jamshedpur

बागबेड़ा : फिल्टर प्लांट का मोटर जला या हो रहा हाई वोल्टेड ड्रामा, सातवें दिन होने लगा है विरोध

मुखिया ने कहा- गुरुवार से ही बनकर तैयार है मोटर, दो दिनों से की जा रही है फिटिंग, लोगों के नाटक में फंसे राजकुमार

Jamshedpur : बागबेड़ा हाउसिंग कॉलोनी में पिछले सात दिनों से जलापूर्ति नहीं हो पा रही है. यहां का मोटर सही में जला है या इसको लेकर हाई वोल्टेड ड्रामा किया जा रहा है. परेशान होकर बागबेड़ा के कई लोग शुक्रवार को फिल्टर प्लांट पहुंचे और वस्तुस्थिति का जायजा लिया. यहां पर मिस्त्री की ओर से  बताया गया कि मोटर का स्टार्टर खराब था. पहले 2 हजार रुपये लगने वाला था, लेकिन अब 40 हजार रुपये लग रहा है . इसको लेकर बागबेड़ा के लोग सोमवार को जिले के डीसी से भी मिलेंगे और पूरे मामले की जानकारी देंगे. वहीं दूसरी ओर जिला पार्षद उपाध्यक्ष राजकुमार सिंह लोगों के  नाटक में फंसकर अपनी निजी खर्च पर दो टैंकरों से बागबेड़ा में छह दिनों से जलापूर्ति करने का काम कर रहे हैं.

Advt

जनप्रतिनिधियों पर भड़के ईश्वर टुडू

बागबेड़ा के रहने वाले ईश्वर टुडू ने कहा कि वे फिल्टर प्लांट में पहुंचे हुए थे. अगर बागबेड़ा में 36 घंटे के भीतर जलापूर्ति को बहाल नहीं किया जाता है वे खुद चंदा करके मोटर को  बनाने का काम करेंगे.

कांग्रेस नेता अजय ओझा ने क्या कहा

कांग्रेस नेता अजय ओझा का कहना है छह माह में 13 बार मोटर जलने की बात बताई गई है. इसकी मरम्मत के नाम पर जनप्रतिनिधियों ने लाखों का गबन किया गया है. इसके पहले अजय ओझा, भाजपा नेता सुबोध झा, विनोद सिंह, हितेंद्र सिंह, मनोज तिवारी, चंद्रकांत सिंह और संजय सिंह ने धर्मात्मा मिस्त्री से मोटर बनवाया था और एक साल का एग्रिमेंट भी करवाया था. वह मोटर आज तक सही सलामत है.

मुखिया ने क्या कहा

मुखिया प्रतिमा मुंडा ने कहा कि मोटर बनकर तैयार हो गया है. फिटिंग का काम भी शुक्रवार तक पूरा कर लिया गया है. शनिवार के जलापूर्ति का काम शुरू कराया जाएगा. सात दिनों तक लोगों को इसको लेकर परेशानी हुई. इसके  लिए उन्होंने खेद व्यक्त किया है.

इसे भी पढ़ें- सिविल कोर्ट में न्यायिक पदाधिकारियों और अधिवक्ताओं ने पढ़ी संविधान की प्रस्तावना

Advt

Related Articles

Back to top button