JharkhandNEWSRanchi

बाबूलाल ने सीएम को लिखा पत्र, कहा-चुनावी सभाओं में भीड़ की इजाजत तो दुर्गा पूजा पर प्रतिबंध क्यों?

  • दशहरा के लिए सरकारी गाइडलाइन में जनता को मिले ढील: मरांडी

Ranchi: भाजपा विधायक दल के नेता बाबूलाल मरांडी ने सरकार से दशहरा के लिए सरकारी गाइडलाइन में जनता को ढील देने की मांग की है. सीएम हेमंत सोरेन को लिखे पत्र में उन्होंने कहा है कि दशहरा पूजा पंडाल के लिए जारी सरकारी निषेधाज्ञा व्यावहारिक नहीं हैं. इसमें मूर्तिं साइज, प्रसाद वितरण, विसर्जन और पूजा विधि जैसे कार्यों में ढ़ील देने की जरूरत है. देवी की पूजा अर्चना से भी महामारी से मुक्ति मिलती है. दुर्गा सप्तशती में भी ऐसा कहा गया है.

कोरोना ग्राफ गिर रहा नीचे

झारखंड में कोरोना महामारी का ग्राफ अब नीचे आ रहा है. जनता कोरोना से लड़ने, सामाजिक दूरी और संयम रखते हुए विभिन्न सामाजिक कार्यक्रम में हिस्सा लेना जान चुकी है. यह उनकी आदतों में भी शामिल हो गया है. ऐसे में दशहरा में थोड़ी औऱ ढील जनता के हित में दी जानी चाहिये.

राजनीतिक सभा है जारी

राज्य में सरकार द्वारा निर्गत लॉकडाउन के प्रोटोकॉल का उल्लंघन हो रहा है. भीड़ भरे जुलुस निकाले जा रहे हैं. लगातार धरना प्रदर्शन किया जा रहा है. स्व. हाजी हुसैन अंसारी को श्रद्धांजलि देते समय उनके जनाजे की जलसा में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं हो सका. जबकि इसमें सीएम और मंत्रिमंडल के कई सहयोगी भी शामिल थे.

सरकार की ओर से थाना परिसरों एवं दीदी किचन के माध्यम से प्रवासी मजदूरों, राहगीरों और गरीबों के लिए भोजन वितरण किया गया. इसमें सामाजिक दूरी बनाकर लाखों लोगों को भोजन वितरण कर एक नया रिकॉर्ड बनाया गया. राज्य में चुनाव आयोग के द्वारा विभिन्न राजनैतिक पार्टियों को चुनावी सभा की अनुमति दी गई है. इसमें हजारों लोग शामिल हो रहे हैं. ऐसे में दुर्गापूजा के संबंध में जारी गाईडलाइन में रियायत मिले.

advt
Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: