JharkhandPalamu

पलामू का बाबू बक्शी हत्याकांडः तीन और अपराधी गिरफ्तार, बीड़ी पत्ता कारोबार में वर्चस्व के लिए हुई थी हत्या

Palamu : सदर थाना क्षेत्र के मटपुरही में 4 जून की शाम हुई अपराधी रमेश भुइयां उर्फ बाबू बक्शी की हत्या में शामिल 3 और आरोपियों को गिरफ्तार किया गया. एक आरोपी को 5 जून को गिरफ्तार कर न्यायिक हिरासत में भेजा गया था. बतातें चलें कि इस कांड में 10 नामजद सहित कई अज्ञात के खिलाफ मामला दर्ज कराया गया था. हत्याकांड को बीड़ी पत्ता कारोबार में अपना वर्चस्व बनाए रखने के लिए अंजाम दिया गया था.

इसे भी पढ़ेंः Virtual Rally में अमित शाह ने कहा- इसका चुनाव से कोई लेना-देना नहीं

विदित हो कि बाबू बक्शी कुख्यात अपराधी सरगना डब्लू सिंह गिरोह से जुड़ा था. उस पर हत्या, रंगदारी से संबंधित आधा दर्जन से अधिक मामले दर्ज हैं, जिसमें वह जेल भी जा चुका था.

ram janam hospital
Catalyst IAS

एसपी अजय लिंडा ने बताया कि बीड़ी पत्ता के कारोबार को लेकर बाबू बक्शी और जमुने पंचायत के उपमुखिया पति शंकर राम के बीच पूर्व से ही विवाद था. दोनों इस कारोबार में अपना वर्चस्व बनाना चाहते थे. इसी विवाद को लेकर 4 जून को दोनों के बीच हाथापाई हुई.

The Royal’s
Sanjeevani
Pushpanjali
Pitambara

शंकर राम और उसके समर्थकों की संख्या अधिक देखकर बाबू कमजोर पड़ गया. मौके से भागने के क्रम में पीछे से उसकी गोली मारकर हत्या कर दी गयी थी. हत्या में प्रयुक्त हथियार बरामद कर लिया गया है.

एसपी ने कहा कि गिरफ्तार तीन आरोपियों में चानु भुइयां उर्फ चानु राम, रवि राम उर्फ रवि कुमार और विक्की कुमार शामिल हैं. एक आरोपी संजय राम को पूर्व में ही गिरफ्तार कर न्यायिक हिरासत में भेजा गया था. तीनों मटपुरही के निवासी हैं.

कांड के मुख्य आरोपी शंकर राम, उसका भाई विष्णु राम, राजू सिंह, विजय राम, मन्नु राम, महेश राम, रॉकी साव फरार हैं. पूछताछ के क्रम में तीनों ने हत्या में अपनी संलिप्तता स्वीकार की. आरोपियों ने कहा कि रमेश भुइयां उर्फ बाबू बक्शी की हत्या बीड़ी पत्ता के कारोबार में अपना वर्चस्व बनाए रखने के लिए शंकर राम के साथ मिलकर की थी.

इसे भी पढ़ेंः Corona: लोहरदगा में 11 नये कोरोना पॉजिटिव केस, झारखंड का आंकड़ा 1041

ये है पूरी घटना

घटना के दिन बाबू बक्शी अपने दो साथियों गुडन भुइयां और रिझन भुइयां के साथ मटपुरही स्कूल के पास पहुंचा. इसी क्रम में शंकर राम एवं अन्य ने बीड़ी पता व्यवसाय को लेकर उनके साथ मारपीट की. और इसी दौरान बाबू बक्शी की गोली मार दी गयी. आरोपियों के पास से एक देसी कट्टा, गोली का अग्रभाग (पीलेट), 7.65 गोली का एक खोखा,  एक मोटरसाइकिल आदि बरामद की गयी है. गिरफ्तारी अभियान में सदर थाना प्रभारी विष्णु सिंह दल बल के साथ शामिल थे.

इसे भी पढ़ेंः lockDownEffect : लंबी दूरी की बसों के बंद होने से 2.50 लाख लोग बेरोजगार, 75 करोड़ से ज्यादा  आर्थिक नुकसान

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button