Main SliderNationalSports

IPL टाइटल स्पॉन्सरशिप की दौड़ में बाबा रामदेव की कंपनी पतंजलि, भेजेगा BCCI को प्रस्ताव  

New Delhi : इस साल चीन की मोबाइल कंपनी VIVO के IPL टाइटल स्पॉन्सर से हट गयी है. लेकिन VIVO के प्रीमियर लीग से हटते ही अब नयी कंपनियां इस दौड़ में शामिल हो गयी हैं. जिसमें सबसे आगे बाबा रामदेव की कंपनी पतंजलि है. बाबा रामदेव की कंपनी की ओर से इस बात की पुष्टी भी की गयी है.

पतंजलि के प्रवक्ता एसके तिजारावाल ने मीडिया से बातचीत में कहा कि, इस साल पतंजलि की IPL की टाइटल स्पॉन्सरशिप लेने के लिए विचार कर रही है. क्योंकि इसके पीछा वजह है कि पतंजलि को विश्व के मंच पर ले जाना चाहते हैं. जिससे स्पॉन्सरशिप पर विचार हो रहा है. साथ ही उन्होंने कहा कि कंपनी की ओर से इसपर BCCI को एक प्रस्ताव भेजने की तैयारी चल रही है.

वहीं इस दौड़ में ऑनलाइन शॉपिंग कंपनी ऐमजॉन, फैंटसी स्पोर्ट्स कंपनी ड्रीम 11 के अलावा टीम इंडिया की जर्सी स्पॉन्सर कंपनी है.जबकि ऑनलाइन लर्निंग कंपनी बायजूज भी इस दौड़ में शामिल है.

advt

इसे भी पढें –15 अगस्त को आत्मनिर्भर भारत पर PM करेंगे बड़ा ऐलान, रक्षा मंत्री ने दिये संकेत  

अगले साल के लिए BCCI  ने खुले रखे हैं विकल्प

बता दें कि सीमा पर भारत और चीन के सैनिकों के बीच हुई भिड़ेत के बाद ही VIVO ने IPL  के टाइटल स्पॉन्सरशिप से हटने का फैसला किया. टाइटल स्पॉन्सरशिप आइपीएल के व्यवसायिक राजस्व का अहम हिस्सा है. जिसका आधा भाग सभी आठों फ्रेंचाइजी में बराबर-बराबर बांटा जाता है. VIVO टाइटल स्पॉन्सरशिप के लिए आइपीएल को हर साल 440 करोड़ रूपये का भुगतान करता है.

हालांकि VIVO से कॉन्ट्रेक्ट साल 2022 तक का है. और BCCI ने अगले साल के लिए VIVO के टाइटल स्पॉन्सरशिप का रास्ते भी खुला रखा है.

 

adv

 VIVO के टाइटल स्पॉन्सरशिप से हटने पर क्या बोले गांगुली

VIVO के टाइटल स्पॉन्सरशिप से हटने के बाद BCCI के अध्यक्ष सौरभ गांगुली ने कहा था कि ये महज एक झटका है. और साथ ही इससे पैदा होने वाले वित्तीय संकट को गांगुली ने सिरे से खारिज भी किया था.

गांगुली ने शैक्षिक किताबों के प्रकाशक एस चंद ग्रुप द्वारा शनिवार को आयोजित एक वेबिनार के दौरान कहा था कि मैं इसे वित्तीय संकट नहीं कहूंगा. यह महज छोटा सा झटका है.

साथ ही कहा था कि BCCI बहुत मजबूत संस्था है.  साथ ही कहा था कि  बीते समय में खेल, खिलाड़ियों, प्रबंधकों ने इस खेल को इतना मजबूत बना दिया है कि बीसीसीआई इन सभी झटकों से निपटने में सक्षम है.

इसे भी पढ़ें – जमीन दिलाने के नाम पर पुलिसकर्मी सहित कई लोगों से करोड़ों की ठगी करने का आरोपी गिरफ्तार

 

advt
Advertisement

Related Articles

Back to top button