Crime NewsLead NewsNational

बाबा गुरमीत राम रहीम एक और हत्याकांड में दोषी करार, 12 अक्टूबर को सुनाई जाएगी सज़ा

रणजीत सिंह एक वक्त राम रहीम के डेरे का मैनेजर था 2002 में की गयी थी हत्या

Chandigarh : साधवियों से बलात्कार करने और पत्रकार रामचंद्र छत्रपति की हत्या करवाने की सजा काट रहे बाबा गुरमीत राम रहीम सिंह को अब एक और मामले में दोषी करार दिया गया है. राम रहीम को डेरे के मैनेजर रणजीत सिंह की हत्याकांड के मामले में दोषी पाया गया है. शुक्रवार को पंचकुला की सीबीआई कोर्ट ने यह फैसला सुनाया है.

इसे भी पढ़ें : पुलिस के साथ मारपीट कर बक्सर कोर्ट से दो कैदी फरार

advt

12 अक्टूबर को सुनाई जाएगी सज़ा

साल 2002 में डेरा मैनेजर रणजीत सिंह की उनके गांव में गोली मारकर हत्या कर दी गई थी. सीबीआई कोर्ट ने राम रहीम को धारा 302 और 120 B में दोषी पाया है. इस मामले में राम रहीम को चार दिन बाद यानी 12 अक्टूबर को सज़ा सुनाई जाएगी. राम रहीम फिलहाल हरियाणा में रोहतक की सुनारिया जेल में बंद है.

इसे भी पढ़ें : Big news : SBI ग्राहकों के लिए बड़ी खबर, जानें किस-किस दिन लेन-देन सहित कई सर्विस में होगी दिक्कत

डेरे का मैनेजर और राम रहीम का भक्त हुआ करता था रणजीत

गौरतलब है कि रणजीत सिंह की हत्या का ये मामला सीबीआई की स्पेशल कोर्ट में चल रहा है. रणजीत सिंह एक वक्त राम रहीम के डेरे का मैनेजर और उसका भक्त हुआ करता था, लेकिन 10 जुलाई 2002 को अचानक रणजीत सिंह की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी. हत्या का रहस्य बहुत गहरा था. हत्या के आरोप में राम रहीम के साथ उसका सहयोगी कृष्ण लाल भी फंसा था.

इसे भी पढ़ें : रांची : 18 दुकानों और 35 अवैध घरों पर चला रेलवे का बुलडोजर

बता दें कि राम रहीम को सीबीआई कोर्ट ने दो साध्वियों के साथ बलात्कार के मामले में 20 साल कैद की सजा सुनाई थी. वहीं, राम रहीम को पत्रकार रामचंद्र छत्रपति की हत्या के मामले में उम्र कैद की सजा सुनाई गई थी.

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: