DeogharJharkhandOFFBEATRanchi

बाबा बैद्यनाथ मंदिर प्रबंधन समिति गंभीर रोगों से पीड़ित गरीबों का करायेगी इलाज

- बाबा धाम के कल्याण कोष से की जायेगी मदद

Deoghar: बाबा बैद्यनाथ के भक्तों के लिये अच्छी खबर है. देवघर स्थित बाबा बैद्यनाथ मंदिर की प्रबंधन समिति ने असाध्य रोगों से ग्रसित गरीबों की मदद करने का फैसला लिया है. इसके लिए बाबा बैद्यनाथ कल्याण कोष का उपयोग किया जायेगा.

बाबा मंदिर प्रभारी सह एसडीओ दिनेश कुमार यादव ने बुधवार को मीडिया को बताया कि कई ऐसे गरीब लोग हैं जो पैसे के अभाव में गंभीर बीमारियों की चुनौती से जुझते हैं. उनकी मदद कल्याण कोष से की जायेगी. इसके अलावे असहाय, गरीब, दिव्यांग और जरूरतमंद लोगों की भी मदद की जायेगी. उनका जीवन संवारने में मदद की जायेगी.

देवघर में रहने वालों को लाभ

Catalyst IAS
SIP abacus

एसडीओ के अनुसार जिला प्रशासन जिलावासियों की स्वास्थ्य सुविधा के लिये मंदिर प्रशासन के साथ मिलकर पहल कर रहा है. जिन जरुरतमंदों के आवेदन प्राप्त होंगे, उसकी जांच परख करके मंदिर कमिटी की स्वीकृति ली जायेगी. इसके बाद कल्याण कोष के माध्यम से जरूरतमंदों की हरसंभव मदद की जायेगी.

MDLM
Sanjeevani

बाबा बैद्यनाथ कल्याण कोष में मदद के लिए लोगों से सामने आने की अपील की गयी है. इस कोष में कोई भी दाता अपनी इच्छा और सामर्थ्य के अनुसार दान दे सकता है. इस कोष के तहत जमा राशि का उपयोग निर्धनों और जरूरतमंदों की मदद के लिए किया जायेगा.

किस आधार पर मिलेगा लाभ

देवघर में रहने वालों को कुछ शर्तों का पालन करने पर ही कल्याण कोष से मदद मिलेगी. गंभीर बीमारी से ग्रसित गरीब रोगी ने सरकार के स्तर से किसी अन्य योजना का लाभ पहले से ना लिया हो. वैसे लोगों को प्राथमिकता मिलेगी, जिनके पास गोल्डन कार्ड नहीं है या वे आयुष्मान योजना का लाभ नहीं ले पा रहे हैं.

जरूरतमंद व्यक्ति अपना आवेदन बाबा मंदिर प्रभारी सह अनुमंडल पदाधिकारी के कार्यालय में जमा कर सकते हैं. आवेदन के साथ अपना पहचान पत्र, बीमारी से संबंधित कागजात देने होंगे. अगर लाभुक अनुमंडल कार्यालय आने में असमर्थ है तो उन्हें अपना वीडियो या फोटो आवेदन के साथ संलग्न करना होगा. बीपीएल को लाभ दिये जाने पर जोर रहेगा.

दिव्यांगों के लिये लगेगा स्पेशल कैंप

दिव्यांगजनों के लिये गुरुवार को स्पेशल कैंप लगाया जायेगा. देवघर के केएन स्टेडियम में इसका आयोजन दिन में 11 बजे से किया जाना है. डीसी मंजुनाथ भजंत्री के अनुसार दिव्यांगजनों की सुविधा के लिये एक दिवसीय कैंप का आयोजन किया गया है. कैंप के दौरान दिव्यांगों के लिए यंत्र उपकरण वितरण किया जायेगा. साथ ही कृत्रिम अंग निर्माण का आकलन भी किया जायेगा ताकि इसका लाभ जरूरतमंद विकलांग को दिया जा सके. ऐसे दिव्यांग जिनके पास दिव्यांगता का प्रमाण पत्र (40% या उससे अधिक) होगा, उन्हें प्राथमिकता मिलेगी.

बीपीएल को निःशुल्क लाभ

कैंप में बीपीएल कैटेगरी के दिव्यांगों को फ्री में कृत्रिम अंग दिये जायेंगे. इसके लिये बीपीएल कार्ड या आय प्रमाण दिखाना होगा जिससे पता चले कि उनकी मासिक आय सरकार द्वारा निर्धारित सीमा से कम है. यह पत्र तहसीलदार, सरपंच, ग्राम प्रधान या सक्षम व्यक्ति द्वारा निर्गत किया होना चाहिये.

कैंप में आकर लाभ उठाने वाले के पास आधार कार्ड, वोटर आइडी, जन्म प्रमाण पत्र या स्कूल-कॉलेज का आइ कार्ड होना चाहिये. इसके अलावे दिव्यांगता प्रदर्शित करती हुई पासपोर्ट आकार की दो फोटो भी हो.

Related Articles

Back to top button