JharkhandRanchi

शिक्षा एवं स्वास्थ्य के क्षेत्र में राज्य सरकार के साथ समन्वय बनाकर कार्य करना चाहते हैं अजीम प्रेमजी

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने विप्रो फाउंडर के साथ की वार्ता

Ranchi: मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने गुरुवार को झारखंड मंत्रालय से विप्रो फाउंडर अजीम प्रेमजी के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से राज्य के कई विकासात्मक मुद्दों पर सकारात्मक चर्चा की. वार्ता के दौरान मुख्यमंत्री के समक्ष अजीम प्रेमजी ने कहा कि पूर्वोत्तर भारत के राज्यों में झारखंड अजीम प्रेम जी फाउंडेशन एवं विप्रो के लिए महत्वपूर्ण राज्य बनेगा.

अजीम प्रेमजी ने मुख्यमंत्री से कहा कि आपके नेतृत्व में झारखंड दिन प्रतिदिन सर्वांगीण विकास की ओर अग्रसर हो रहा है. प्रेमजी ने राज्य सरकार की नीतियों की सराहना की तथा झारखंड में निवेश की इच्छा जतायी. प्रेमजी ने कहा कि अजीम प्रेमजी फाउंडेशन और विप्रो गुणवत्तापूर्ण उच्चतर शिक्षा एवं स्वास्थ्य के क्षेत्र में राज्य सरकार के साथ समन्वय बनाकर कार्य करना चाहती है. झारखंड में अजीम प्रेमजी विश्वविद्यालय की स्थापना, स्वास्थ्य के लिए स्टेट ऑफ द आर्ट मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल की स्थापना एवं आईटी पार्क फॉर जॉब एम्पलाईमेंट के लिए एवं जीविका के लिए अनेकों कार्य योजनाओं को झारखंड की जमीन पर उतारने के लिए अज़ीम प्रेमजी फ़ाउंडेशन पूरी तरह तैयार है.

advt

इसे भी पढ़ें – दो सप्ताह में पीएम आवास योजना के नॉन स्टार्टर काम को पूरा करने में लगी सरकार, 30 दिनों में 20 हजार आवास होंगे तैयार

झारखंड संभावनाओं से भरा प्रदेश

वार्ता के क्रम में मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन ने अजीम प्रेमजी फाउंडेशन द्वारा वैश्विक कोरोना महामारी काल में झारखंड को दिए गए सहयोग के लिए उन्हें धन्यवाद दिया. मुख्यमंत्री ने कहा कि आपके संस्था द्वारा जो सहयोग झारखंड वासियों को मिला है, यह सराहनीय है.

मुख्यमंत्री ने कहा कि अजीम प्रेमजी फाउंडेशन तथा विप्रो राज्य सरकार के साथ मिलकर काम करेगी तो निश्चित रूप से हम झारखंड को कई क्षेत्रों में आत्मनिर्भर बना सकेंगे. मुख्यमंत्री ने कहा कि झारखंड संभावनाओं से भरा प्रदेश है. उन्होंने कहा कि राज्य गठन के बाद आर्थिक, सामाजिक और शैक्षणिक क्षेत्र में जितना विकास होना चाहिए था, आशानुरूप उतना विकास नहीं हो पाया है. इन सभी क्षेत्रों में सकारात्मक बदलाव के लिए राज्य सरकार प्रतिबद्धता के साथ कार्य कर रही है.

मुख्यमंत्री ने कहा कि झारखंड खेल और खिलाड़ियों के लिए भी जाना जाता है. विश्व क्रिकेट एवं हॉकी में हमारे बच्चों ने प्रतिभा का लोहा मनवाया है. हमारा राज्य प्राकृतिक सुंदरता के लिए भी जाना जाता है, बस जरूरत है कि यहां के पोटेंशियल को हम पहचाने और उस पर कार्य करें.

इसे भी पढ़ें – बड़ी त्रासदी : बीमा कंपनियों की कारस्तानी, भुगत रहे हैं झारखंड के 23 लाख किसान

मुख्यमंत्री ने दिया झारखंड आने का दिया निमंत्रण

मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन ने व्यक्तिगत तौर पर अजीम प्रेमजी को झारखंड आने का निमंत्रण दिया. मुख्यमंत्री ने कहा कि आप झारखंड पधारें, मैं स्वयं आपको इस राज्य की संभावनाओं से रूबरू कराऊंगा. राज्य सरकार और अजीम प्रेमजी फाउंडेशन मिलकर राज्य को नई दिशा देने में महती भूमिका निभाएंगे. अजीम प्रेमजी ने मुख्यमंत्री के निमंत्रण को स्वीकारते हुए जल्द ही झारखंड आने की बात कही. उन्होंने मुख्यमंत्री के समक्ष कहा कि अजीम प्रेमजी फाउंडेशन एवं विप्रो झारखंड की जनता के सर्वांगीण विकास के लिए सदैव तत्पर हैं.

वार्ता के दौरान मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव राजीव अरुण एक्का, मुख्यमंत्री के सचिव विनय कुमार चौबे, सीईओ अजीम प्रेमजी फाउंडेशन अनुराग बेहर, फिया फाउंडेशन के स्टेट हेड जॉनसन टोपनो सहित अन्य उपस्थित थे.

इसे भी पढ़ें – सरयू राय की जीवनी ‘द पीपुल्स लीडर’ का विमोचन: सीएम बोले- अच्छे लोगों ने ‘सत्यमेव जयते’ को जिंदा रखा है

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: