Main SliderRanchi

आयुष्मान भारत योजना रिम्स में फेल, नोडल पदाधिकारी ने कहा- मुझे कार्यमुक्त करें

Ranchi: राज्य के सबसे बड़े हॉस्पिटल रिम्स में आयुष्मान भारत योजना फेल हो चुकी है. गरीबों के लिए बनी केंद्र सरकार की इस योजना का लाभ रिम्स के मरीजों को नहीं मिल पा रहा है. मरीजों को योजना का लाभ नहीं दिला पाने पर आयुष्मान भारत योजना के रिम्स के नोडल पदाधिकारी भी अब खुद को शर्मिंदा महसूस करने लगे हैं. खुद को असहाय समझते हुए नोडल पदाधिकारी डॉ संजय कुमार ने रिम्स डायरेक्टर डॉ डीके सिंह से खुद को कार्यमुक्त करने का आग्रह किया है. यह जानकारी डॉ संजय कुमार ने व्हाट्स मैसेज के जरिये दी है.

रिम्स के परचेज सेक्शन से नहीं मिल रहा सहयोग

अपने मैसेज में डॉ संजय ने कहा है कि मैंने आयुष्मान भारत योजना के तहत मरीजों को निःशुल्क इलाज कराने का पूरा प्रयास किया. इस क्षेत्र में जुड़े अन्य लोगों से कोई सहयोग नहीं मिल पाया. उन्होंने बताया कि मरीजों के आवदेन आने के बाद उसे कागजी रूप से दुरुस्त कर लोकल परचेज सेक्शन स्टोर को भेज दिया जाता है. लेकिन परचेज सेक्शन स्टोर से हमें कोई सहयोग नहीं मिल पा रहा है. इससे मरीजों को इलाज में काफी कठिनाई हो रही है. बाध्य होकर मरीज के परिजन या तो खुद पैसे खर्च करके दवा और अन्य मेडिकल सामग्री लेकर आते हैं. डॉ संजय ने कहा की इलाज में हो रही देरी के कारण आयुष्मान भारत के लाभुक होते हुए अब इस योजना का लाभ नहीं ले पा रहे हैं.

advt

असहाय और शर्मिंदा महसूस कर रहा हूं : डॉ संजय

डॉ संजय ने कहा कि मरीजों को आयुष्मान भारत योजना का लाभ नहीं दे पाने पर मैं असहाय एवं शर्मिंदा महसूस कर रहा हूं. कई लोगों ने तो मुख्यमंत्री और प्रधानमंत्री के जनसंवाद में भी शिकायत की है. इसका भी जवाब देते- देते अब थक चुका हूं.  इसीलिए बाध्य होकर आज मैंने निदेशक महोदय से अनुरोध किया कि मुझे आयुष्मान भारत के नोडल पदाधिकारी से मुक्त कर दिया जाये.

इसे भी पढ़ें- नयी बिजली दर में फंस सकता है पेंच, ग्रामीण और शहरी दर एक समान करने पर आपत्ति

adv

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: