न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

आयुष्मान भारत योजना : रिम्स में एक महीने में बने 590 गोल्डेन कार्ड, 97 केस प्रीऑथराइज्ड, पांच का हुआ क्लेम

107

Ranchi : आयुष्मान भारत योजना के शुरू हुए मंगलवार को एक माह पूरा हो गया. अस्पतालों में लगातार मरीज गोल्डेन कार्ड बनवाते नजर आ रहे हैं. रिम्स में अब तक 590 लोगों के गोल्डेन कार्ड बनाये जा चुके हैं. इनमें वर्तमान में 82 मरीज हॉस्पिटल में इलाजरत हैं. इलाज में कुल 13 लाख 86 हजार रुपये प्रीऑथराइज्ड किये गये हैं. रिम्स के निदेशक डॉ आरके श्रीवास्तव ने बताया कि कुल 97 केस प्रीऑथराइज्ड हो चुके हैं. जबकि, 82 मरीज अभी इस योजना के अंतर्गत इलाज करा रहे हैं. इसके अलावा पांच मरीजों का क्लेम भी किया जा चुका है और यह राशि आवंटित भी हो चुकी है. डॉ श्रीवास्तव ने कहा कि योजना अभी नयी-नयी है, इसलिए थोड़ी परेशानी आ रही है. कई दवाइयां एवं इंप्लांट ऐसे हैं, जिन्हें खरीदने की व्यवस्था सुनिश्चित की जा रही है. लेकिन, थोड़ी देर से ही सही, मरीजों को सुविधाएं अवश्य मिल रही हैं. मरीज आयुष्मान योजना के तहत स्वास्थ्य लाभ लेकर अस्पताल से लौट रहे हैं. वहीं, बड़ी संख्या में मरीजों का गोल्डेन कार्ड बनना जारी है.

इसे भी पढ़ें- 29 को राजभवन के समक्ष धरना देंगे बिहार और झारखंड के ग्रामीण चिकित्सक

सर्वर डाउन रहने के कारण नहीं निकला सदर हॉस्पिटल का डेटा

इधर, सिविल सर्जन डॉ विजय बहादुर प्रसाद ने बताया कि सर्वर डाउन रहने के कारण पूरा आंकड़ा नहीं निकाला जा सका है. सर्वर ठीक होने के बाद ही रिपोर्ट दे सकेंगे. हालांकि, एक माह में सदर हॉस्पिटल में भी गोल्डेन कार्ड बनाने का सिलसिला लगातार जारी रहा है. मरीजों का उक्त योजना के तहत इलाज भी किया जा रहा है.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed.

%d bloggers like this: