न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

अयोध्या : विहिप की धर्मसभा आज, जुट रहे हैं रामभक्त, साधु के भेष में आतंकी हमले का इनपुट   

आज 25 नवंबर को अयोध्या में राजनीतिक पारा चढ़ा हुआ है. राम मंदिर को लेकर शिवसेना और विहिप के आह्वान पर जुट रही भीड़ के कारण प्रशासन के माथे पर चिंता की लकीरें हैं.

29

Lucknow :  आज 25 नवंबर को अयोध्या में राजनीतिक पारा चढ़ा हुआ है. राम मंदिर को लेकर शिवसेना और विहिप के आह्वान पर जुट रही भीड़ के कारण प्रशासन के माथे पर चिंता की लकीरें हैं. धर्मसभा के दौरान साधु के भेष में आतंकी हमला कर सकते हैं. खुफिया ब्यूरो से मिले इनपुट के बाद यूपी पुलिस ने अयोध्या शहर की सुरक्षा अचानक और बढ़ा दी गयी है. विहिप का दावा है लगभग तीन लाख रामभक्त दोपहर 12 बजे आयोजित धर्मसभा में शामिल लेंगे. बता दें कि योगी सरकार ने शिव सेना प्रमुख उद्धव ठाकरे को रैली करने की इजाजत नहीं दी है.  शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे सुबह  श्रीरामजन्मभूमि में विराजमान रामलला का दर्शन किये. दो घंटे बाद 11 बजे लक्ष्मण किला में प्रेस कांफ्रेंस करेंगे. विश्व हिंदू परिषद की रविवार को आयोजित धर्म सभा और शिवसेना के कार्यक्रम को लेकर रामनगरी अयोध्या में सख्त पहरेदारी है. सुरक्षा के लिए एक अपर पुलिस महानिदेशक, एक पुलिस उप-महानिरीक्षक, तीन वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक, 10 अपर पुलिस अधीक्षक, 21 पुलिस उपाधीक्षक, 160 इंस्पेक्टर, 700 कांस्टेबल, 42 कंपनी पीएसी, पांच कंपनी आरएएफ, एटीएस कमांडो और ड्रोन तैनात किये गये हैं.

अयोध्‍या में धारा 144 लगाई जा चुकी है

रिपोर्ट के अनुसार लखनऊ डीजीपी हेडक्वार्टर से एक एडीजी पुलिस, एक डीआईजी, तीन एसएसपी, 10 एएसपी, 21 डीएसपी, 160 इंस्पेक्टर,700 कांस्टेबल, 42 कंपनी पीएसपी, पांच कंपनी आरएएफ, एटीएस कमांडो की तैनाती अयोध्या में की गई है. साथ ही, ड्रोन कैमरे से भी निगरानी की जा रही है. कानून व्‍यवस्‍था को बनाए रखने के लिए बड़ी संख्‍या में घुड़सवार पुलिसकर्मी तैनात हैं. अयोध्‍या में धारा 144 लगाई जा चुकी है और स्‍कूल-कॉलेज बंद रहेंगे. शहर की करीब 50 स्‍कूलों में सुरक्षाबलों के कैंप लगाये हैं. डीजीपी ओपी सिंह ने बताया कि सुरक्षा व्यवस्था की दृष्टि से अयोध्या को आठ जोन व 16 सेक्टर में बांटा गया है. हर जोन व सेक्टर में पुलिस व प्रशासनिक अफसरों की तैनाती की जा रही है. यूपी सरकार ने शनिवार को तीन आईपीएस अधिकारियों को अयोध्या भेजा था. डीजीपी के अनुसार एटीएस की इंटेलिजेंस टीम गतिविधियों पर पैनी नजर रखी हुई है.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: