NationalTop Story

#Ayodhya: कार सेवकों पर दर्ज केस वापस लेने,पेंशन और मरने वालों को शहीद का दर्जा देने की मांग, हिंदू महासभा ने PM को लिखा पत्र

Lucknow: अयोध्या विवाद पर सुप्रीम कोर्ट का फैसला आने के बाद हिंदू महासभा ने बाबरी मस्जिद ढाहने वाले कार सेवकों पर दर्ज मुकदमे वापस लेने की मांग की है. स्वामी चक्रपाणि की अगुवाई वाले हिंदू महासभा के धड़े ने मंगलवार को इसे लेकर पीएम मोदी को पत्र लिखा है.

पत्र में बाबरी मस्जिद विध्वंस के मामले में कारसेवकों के खिलाफ दर्ज मुकदमों को वापस लेने की मांग की है. साथ ही संगठन ने कार सेवा के दौरान मारे गए कार सेवकों को शहीद का दर्जा देने की भी मांग की.

इसे भी पढ़ेंः#JharkhandElection: पहले चरण के नामांकन का आखिरी दिन, मंत्री रामचन्द्र, ददई, आलोक, देवेन्द्र, शशिभूषण समेत दर्जनों दाखिल करेंगे पर्चा

Catalyst IAS
ram janam hospital

पीएम, गृह मंत्री को लिखा पत्र

The Royal’s
Sanjeevani

हिंदू महासभा ने दिल्ली के पते से मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को भेजे गए पत्र में मांग की.

चक्रपाणि ने खत में कहा है कि गत नौ नवंबर को उच्चतम न्यायालय ने अपने आदेश में कहा कि जिस स्थान पर बाबरी मस्जिद थी, वहां पहले मंदिर हुआ करता था. ऐसे में विवादित स्थल पर बने ढांचे का गुंबद बाबरी मस्जिद का नहीं बल्कि मंदिर का ही था, लिहाजा बाबरी मस्जिद ढहाने के मामले में कारसेवकों पर दर्ज मुकदमे फौरन वापस लिए जाने चाहिए.

इसे भी पढ़ेंः#JharkhandElection: जानें BJP के उन उम्मीदवारों के प्रोफाइल, जिन्हें सीटिंग MLA का टिकट काट बनाया गया प्रत्याशी

मारे गये कार सेवकों का शहीद का दर्जा मिले

पत्र में यह भी कहा गया है कि कार सेवा के दौरान मारे गए कारसेवकों को शहीद का दर्जा दिया जाए और उनकी सूची को प्रमुख स्थानों पर प्रदर्शित किया जाए. साथ ही उनके परिवार को वित्तीय सहायता तथा नौकरी भी दी जाए.

पत्र में चक्रपाणि ने यह भी कहा है कि भगवान राम के वे सभी भक्तों जिन्होंने मंदिर निर्माण के लिए कार सेवा की थी, उन्हें स्वतंत्रता सेनानी की तर्ज पर ‘धार्मिक सेनानी’ घोषित किया जाए. आर्थिक रूप से कमजोर धार्मिक सेनानियों को प्रति माह वेतन और सरकारी सुविधाएं दी जाएं.

इसे भी पढ़ेंः#JharkhandElection: कांग्रेस के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष प्रदीप बलमुचू अब आजसू के हुए  

Related Articles

Back to top button