न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

अयोध्या विवादः 6 अगस्त से सुप्रीम कोर्ट में हफ्ते में तीन दिन होगी सुनवाई

226

News Delhi:  अयोध्या विवाद पर सुप्रीम कोर्ट में शुक्रवार को आगे की सुनवाई की रूपरेखा तय कर दी. कोर्ट ने कहा है कि अयोध्या विवाद पर अब 6 अगस्त से हफ्ते में तीन दिन सुनवाई होगी. मध्यस्थता की कोशिश फेल होने के बाद सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि अब इस मामले की सुनवाई तब तक चलेगी, जब तक कोई नतीजा नहीं निकल जाता है.

इसे भी पढ़ें – जम्मू-कश्मीर में फिर भेजे गये 25,000 जवान, आर्टिकल 35ए से छेड़छाड़ की अफवाह

मध्यस्थता समिति ने गुरुवार को सुप्रीम कोर्ट में सीलबंद लिफाफे में फाइनल रिपोर्ट पेश की थी. इस रिपोर्ट में कहा गया कि मध्यस्थता समिति आम सहमति बनाने में सफल नहीं हो पायी है. समिति ने 155 दिनों पर आम सहमति बनाने के लिए विभिन्न पक्षों से बातचीत की, पर कोई हल नहीं निकल पाया. सुप्रीम कोर्ट ने पहले ही कहा था कि अगर आपसी सहमति से कोई हल नहीं निकलता है, तो रोजाना सुनवाई होगी. यह फैसला चीफ जस्टिस रंजन गोगोई की अध्यक्षता वाली संवैधानिक पीठ ने किया. इस बेंच में जस्टिस एसए बोबडे, जस्टिस डीवाइ चंद्रचूड़, जस्टिस अशोक भूषण और जस्टिस एसए नजीर शामिल हैं.

इसे भी पढ़ें – भाजपा के बोकारो विधायक बिरंची नारायण पानी बेच रहे हैं!

मंगलवार, बुधवार, गुरुवार को होगी सुनवाई

सुप्रीम कोर्ट ने मामले की सुनवाई करते हुए कहा कि इस मामले में मध्यस्थता की कोशिश सफल नहीं हुई है. कोर्ट ने अयोध्या राम जन्मभूमि विवाद मामले में गठित मध्यस्थता कमिटी भंग करते हुए कहा कि 6 अगस्त से हफ्ते में तीन दिन मंगलवार, बुधवार और गुरुवार को सुनवाई होगी. कोर्ट ने कहा कि समिति के अंदर और बाहर पक्षकारों के रुख में कोई बदलाव नहीं दिखा है.

इसे भी पढ़ें – Unlawful activities prevention amendment act  राज्यसभा में पास, एनआईए की शक्ति बढ़ी

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like

you're currently offline

%d bloggers like this: