JharkhandRanchi

वन क्षेत्र के सभी में स्कूलों में चलाया जायेगा जागरुकता कार्यक्रम, वन जीवों के संरक्षण पर फोकस

विज्ञापन

Ranchi:  राज्य सरकार वनों व वन्य जीवों के संरक्षण के लिए प्रयासरत् है. हाथी समेत अन्य वन्य जीवों के सुरक्षित आवागमन के लिए विशेष प्रयास किये जा रहे हैं. वनों में ही हाथियों को भोजन मिले इसके लिए ज्यादा से ज्यादा बांस लगाने की योजना है. साथ ही पानी की व्यवस्था भी करें. उक्त निर्देश मुख्यमंत्री रघुवर दास ने झारखंड मंत्रालय में झारखंड राज्य वन्य जीव पर्षद की बैठक में दिये.

उन्होंने कहा कि वन्य क्षेत्र में आनेवाले सभी विद्यालयों में बच्चों के बीच जागरूकता कार्यक्रम चलायें ताकि वन व वन्य जीवों के संरक्षण में सहयोग मिल सके. बैठक में अधिकारियों ने बताया कि मुख्यमंत्री के निर्देश के बाद जंगली हाथियों द्वारा किसी परिवार के मुखिया की मृत्यु होने पर प्रभावित बच्चों का सरकारी स्कूल में नामांकन कराया जायेगा. इस संबंध में सभी उपायुक्तों को निर्देशित किया जा रहा है.

इसे भी पढ़ेंः आंगनबाड़ी केंद्रों के 15 लाख लाभुकों को रेडी टू इट मिलने पर सस्पेंस, अगस्त में खत्म हो रहा टेंडर

advt

किये गये कार्यों का ब्योरा दिया

इस दौरान वक्ताओं ने बताया कि रांची-जमशेदपुर मार्ग पर हाथियों के आवागमन के लिए अंडर पास का निर्माण कराया जा रहा है. पलामू टाइगर रिजर्व में अवैध शिकार की रोकथाम के लिए कानूनी प्रावधानों का कड़ाई से पालन किया जा रहा है. वर्ष 2018-19 के दौरान कुल 6094 हेक्टेयर क्षेत्र में बांस बखारों की सफाई की गयी.

इससे नयी फसल आने में आसानी होगी. इस दौरान विभाग द्वारा 42 हेक्टेयर निजी भूमि पर बांस वनरोपण अग्रिम कार्य, पौधशाला की स्थापना समेत अन्य कार्य किये गये हैं. वनभूमि पर वृहद बांस पुर्नजनन के कार्य के तहत अगले तीन साल में 5000 हेक्टेयर क्षेत्र में कार्य करने की योजना है.

इसे भी पढ़ेंः बीसीसीएल के लिए कोयला उत्खनन कर रही आउटसोर्सिंग कंपनियां ओवरबर्डेन के नाम पर कर रही हैं घोटाला

बैठक में ये लोग थे उपस्थित

बैठक में वन विभाग के अपर मुख्य सचिव इंदूशेखर चतुर्वेदी, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव सुनील कुमार वर्णवाल, हेड ऑफ फॉरेस्ट संजय कुमार समेत पर्षद के सदस्य उपस्थित थे.

adv

इसे भी पढेंः रांची नगर निगम की लापरवाही के कारण नाले में गिरी बच्ची, चुटिया से शव बरामद

advt
Advertisement

Related Articles

Back to top button