Sahibganj

साहिबगंज में हिलसा व डॉल्फिन मछली के सरंक्षण को लेकर जागरूकता कार्यक्रम

Sahibganj:  गुरुवार को शहर के शकुंतला घाट के किनारे एक दिवसीय हिलसा मछली एवं डॉल्फिन संरक्षण को लेकर जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया गया. जिसमें मुख्य रूप से मछुआरा बंधुओं ने भाग लिया. इस कार्यक्रम का आयोजन केंद्रीय अन्तरस्थलीय मत्स्ययाकि अनुसंधान केंद्र बैरकपुर कोलकाता एवं नमामि गंगे अभियान तहत चलाया गया. जिसमें संस्थान के निदेशक डॉ बी  के  दास के मार्गदर्शन में चलाया जा रहा. राष्ट्रीय स्वच्छ गंगा मिशन के तहत फरक्का में हिलसा विकास परियोजना चलाया जा रहा है . जिसमें अब तक 68000 से अधिक हिलसा मछली फरक्का के ऊपरी हिस्से में छोड़ी जा चुकी है. मछली छोड़ने के दौरान कुछ मछलियो को टैग किया जाता है अगर किसी मछुआरे भाइयों को छोटी हिलसा या टैग किए गए हिलसा मिले तो इसकी सूचना मत्स्य विभाग, आईसीएआर – CIFRI अथवा मछुआ सोसाइटी साहिबगंज को दे, सूचना देने वाले को पुरस्कृत किया जाएगा. डॉल्फिन एवं गंगा नदी को स्वच्छ एवं निर्मल रखने को लेकर भी मछुआरे भाइयों को जागरूक किया गया.

बैठक में मुख्य रूप से मत्स्य प्रसार पदाधिकारी नवीन कुमार, दी झारखंड ईस्टर्न गंजेटिक फिशरमेंस को ऑपरेटिव सोसाइटी के सभापति अशोक कुमार चौधरी, उपसभापति छोटे लाल चौधरी, मंत्री, राजीव कुमार चौधरी, टीम के प्रोजेक्ट साइंटिस्ट,NMCG डॉ सौरभ कुंडू, शोधकर्ता दीपक गुप्ता, नवो कुमार, श्रेया रॉय एवं मछुआरा महेश चौधरी, रोहित महलदार,कार्तिक साहनी आदि उपस्थित थे.

इसे भी पढ़ें: झारखंड सरकार के संरक्षण में खेला जा रहा शराब कारोबार में अवैध उगाही का खेल : दीपक प्रकाश

Related Articles

Back to top button