न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

35A पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले का इंतजार, नहीं तो केंद्र करेगा निरस्त: जम्मू-कश्मीर भाजपा

अनुच्छेद 35ए न केवल देश के संविधान बल्कि संसद के साथ भी धोखा है- चरूंग

649

Shrinagar: जम्मू कश्मीर भाजपा ने सोमवार को कहा कि अगर उच्चतम न्यायालय राज्य को विशेष अधिकार देने वाले संविधान के अनुच्छेद 35ए की वैधता को कायम रखता है तो केंद्र सरकार इसे राष्ट्रपति के अध्यादेश के जरिए निरस्त करेगी.

35 ए को केंद्र करेगी निरस्त

बीजेपी प्रदेश प्रवक्ता चरूंग ने कहा, ‘‘अनुच्छेद 35ए फिलहाल उच्चतम न्यायालय के समक्ष विचाराधीन है और हम मामले में फैसला आने तक इंतजार करेंगे.

Aqua Spa Salon 5/02/2020

इसे भी पढ़ेंः110 घंटे बाद बोरवेल से निकला दो वर्षीय फतेहवीर लेकिन हार गया जिंदगी की जंग

अगर सुप्रीम कोर्ट आदेश देता है कि (1954 का) राष्ट्रपति का अध्यादेश गलत था, तो मामला खत्म हो जाएगा. अगर उच्चतम न्यायालय फैसला देता है कि राष्ट्रपति का अध्यादेश सही था तो हम इसे राष्ट्रपति के अध्यादेश के जरिये इसे समाप्त करेंगे.’’

उन्होंने कहा कि अनुच्छेद 35ए न केवल देश के संविधान बल्कि संसद के साथ भी धोखा है. साथ ही कहा कि यह प्रावधान गुप्त तरीके से लाया गया था. हम इसे रद्द करेंगे, क्योंकि हमने देश से इसका वादा किया है.

Related Posts

#Delhi_CM केजरीवाल ने अमित शाह से हुई मुलाकात को सार्थक बताया, ट्वीट कर दी जानकारी

शपथ ग्रहण समारोह के दौरान केजरीवाल ने दिल्ली के विकास के लिए केंद्र की तरफ भी सहयोग का हाथ बढ़ाते हुए कहा था कि मैंने आज के समारोह के लिए प्रधानमंत्री को भी आमंत्रित किया था, लेकिन वह व्यस्त होने की वजह से नहीं आ सके.

कठुआ केस में कोर्ट के फैसले से संतुष्ट नहीं

वहीं बीजेपी ने कठुआ में आठ साल की बच्ची के साथ रेप के बाद हत्या के मामले में सोमवार को आए अदालत के फैसले को ‘दोषपूर्ण’ बताया है.

प्रदेश भाजपा के प्रवक्ता अश्विनी कुमार चरूंगू ने यहां पत्रकारों से कहा, ‘‘ मैंने अभी पूरा फैसला नहीं देखा है. लेकिन मुझे जो मालूम पड़ा है उसके मुताबिक यह दोषपूर्ण फैसला है.’’

उन्होंने कहा, ‘‘ एक ही अपराध के लिए एक व्यक्ति कैसे बरी हो सकता है और अन्य कैसे दोषी ठहराए जा सकते हैं.’’ उन्होंने कहा कि पार्टी फैसले को स्वीकार करती है, लेकिन वह इससे संतुष्ट नहीं है.

इसे भी पढ़ेंःपानी को तरस रहा कुलडीहा गांव का 80 परिवार, डोभा खोद बुझा रहे प्यास

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like