Sports

इंग्लैंड को 8 -1 से हराकर ऑस्ट्रेलिया तीसरे स्थान पर

Bhubaneswar : टाम क्रेग के तीन गोल की मदद से पिछले दो बार की चैम्पियन आस्ट्रेलिया ने रविवार को इंग्लैंड को एकतरफा मुकाबले में 8 – 1 से हराकर हॉकी विश्व कप में तीसरा स्थान हासिल कर लिया. सेमीफाइनल में शूटआउट में नीदरलैंड से हारने का गम भुलते हुए तीन बार की चैम्पियन आस्ट्रेलियाई टीम ने शुरू ही से आक्रामक खेल दिखाया. उसने पहले ही क्वार्टर में दो गोल की बढत बना ली, जिससे इंग्लैंड दबाव में आ गया और अंत तक यह दबाव बना रहा.

पेनल्टी कार्नर तब्दील करके स्कोर 4 – 0

आस्ट्रेलिया के लिये क्रेग ने हैट्रिक लगाते हुए नौवे, 19वें और 34वें मिनट में फील्ड गोल दागे. वहीं ब्लैक गोवर्स ने आठवें ही मिनट में पहला गोल करके आस्ट्रेलिया को बढत दिलाई. ट्रेंट मिटन ने 32वें मिनट में पेनल्टी कार्नर तब्दील करके स्कोर 4 – 0 कर दिया. इसके दो मिनट बाद ही आस्ट्रेलिया ने लगातार दो गोल करके बड़ी जीत पर मुहर लगा दी.  टिम ब्रांड और क्रेग ने ये गोल दागे.

ram janam hospital
Catalyst IAS

टीम बड़ी जीत दर्ज करने के इरादे से ही उतरी थी

The Royal’s
Pushpanjali
Sanjeevani
Pitambara

इंग्लैंड के लिये एकमात्र गोल तीसरे क्वार्टर के आखिरी मिनट में बैरी मिडिलटन ने किया. आस्ट्रेलिया को आखिरी तीन मिनट में मिले दो पेनल्टी कार्नर को गोल में बदलकर जेरेमी हैवर्ड ने 8 – 1 से जीत तय की. मैन आफ द मैच क्रेग ने कहा कि उनकी टीम बड़ी जीत दर्ज करने के इरादे से ही उतरी थी.

इंग्लैंड 1986 में फाइनल में प्रवेश किया था

उन्होंने कहा,‘‘ सेमीफाइनल हारने के एक दिन बाद ही इस मैच के लिए टीम का मनोबल बढाना कड़ी चुनौती थी, लेकिन हम तय करके उतरे थे कि खाली हाथ नहीं लौटना है. बड़े अंतर से जीतना है.’’ पिछले दो विश्व कप में भी चौथे स्थान पर रही इंग्लैंड टीम को पदक के लिये चार साल और इंतजार करना होगा. उसने 1986 में विश्व कप में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करते हुए फाइनल में प्रवेश किया था.

इसे भी पढ़ें : कृषि के विकास में झारखंड को पुरस्कार मिलना ठीक, लेकिन धान की पैदावार का मूल्यांकन भी जरूरी : सरयू…

Related Articles

Back to top button