न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

अगस्ता वेस्टलैंड मामला : दुबई की अदालत ने ब्रिटिश नागरिक क्रिश्चियन मिशेल के प्रत्यर्पण का दिया आदेश

अगस्ता वेस्टलैंड से करीब 225 करोड़ रुपये प्राप्त किए.

142

Delhi : मंगलवार देर शाम आधिकारिक सूत्रों के अनुसार जानकारी मिली की  दुबई की एक अदालत ने 3,600 करोड़ रुपये के अगस्ता वेस्टलैंड वीवीआईपी हेलीकॉप्टर घोटाला मामले में कथित बिचौलिए एवं ब्रिटिश नागरिक क्रिश्चियन मिशेल के प्रत्यर्पण का आदेश दिया है.

उन्होंने बताया कि कुछ समय पहले भारत ने इस मामले में सीबीआई और प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) द्वारा की गई आपराधिक जांच के आधार पर खाड़ी देश से आधिकारिक तौर पर इस संबंध में आग्रह किया था जिसके बाद मंगलवार को अदालत ने यह फैसला दिया.

इसे भी पढे़ : आयुष्मान भारत योजना को लेकर चमकाया जा रहा रिम्स, युद्धस्तर पर रंग-रोगन का काम

कानूनी फैसला अरबी भाषा में

अधिकारियों ने बताया कि क्रिश्चियन मिशेल जेम्स (54) के खिलाफ आदेश की पूरी जानकारी कल मिल सकेगी क्योंकि कानूनी फैसला अरबी भाषा में है और भारतीय अधिकारियों के आग्रह पर उसका अंग्रेजी में अनुवाद कराया जा रहा है. इस फैसले को मामले की जांच कर रहे केंद्रीय जांच ब्यूरो और ईडी के लिए बेहद अहम माना जा रहा है.

ईडी ने जून 2016 में मिशेल के खिलाफ दायर अपने आरोप-पत्र में आरोप लगाया था कि उसने अगस्ता वेस्टलैंड से करीब 225 करोड़ रुपये प्राप्त किए.

इसे भी पढे़ : बरपा रफ्तार का कहर, हाइवा की चपेट में आने से चार की मौत, एक गंभीर

वास्तविक लेन-देन के नाम पर दी गई रिश्वत

ईडी ने कहा था कि यह पैसा और कुछ नहीं, बल्कि कंपनी द्वारा 12 हेलीकॉप्टरों के समझौते को अपने पक्ष में कराने के लिए वास्तविक लेन-देन के नाम पर दी गई रिश्वत थी

सीबीआई और ईडी द्वारा जांच किए जा रहे मामलों में गुइदो हाश्के और कार्लो गेरोसा के अलावा मिशेल तीसरा कथित बिचौलिया है. अदालत द्वारा उसके खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी करने के बाद दोनों जांच एजेंसियों ने उसके खिलाफ इंटरपोल रेड कॉर्नर नोटिस जारी कर दिया था.

इसे भी पढे़ : स्वच्छता ही सेवा अभियान को मुंह चिढ़ा रहा है मंत्री सीपी सिंह और अमर बाउरी के आवास के बाहर पड़ा कचरे…

जाने क्या है अगस्ता वेस्टलैंड घोटाला

सीबीआई ने आरोप लगाया था कि 2004 से 2007 तक वायुसेना प्रमुख रहे त्यागी और अन्य आरोपियों ने अगस्ता वेस्टलैंड से रिश्वत लेकर कंपनी को 53 करोड़ डॉलर का ठेका हासिल करने में मदद की थी. अगस्ता वेस्टलैंड से खरीदे गए ये 12 हेलीकॉप्टर राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री और देश की अन्य शीर्ष वीआईपी हस्तियों की यात्रा के लिए वायुसेना की कम्युनिकेशन स्क्वॉड्रन ने खरीदे थे.

इसे भी पढे़ : कोडरमाः मूर्ति विसर्जन के दौरान दो समुदाय में हिंसक झड़प, धारा 144 लागू

करीब 3,767 करोड़ रुपये के वीवीआईपी हेलीकॉप्टर घोटाले की चल रही जांच में केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) का ध्यान शीर्ष कांग्रेस नेताओं की भूमिका पर था. इन नेताओं में पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और उनके करीबी अहमद पटेल के नाम शामिल हैं.

इससे पहले अदालत ने 2016 में पूर्व फिनमेकेनिका के प्रमुख ब्रूनो स्पैगनोलिनिऔर ग्यूसेप ओरसि को भारतीय अधिकारियों को रिश्वत देने के लिए दोषी ठहराया था. ब्रूनो और ग्यूसेप अगस्ता वेस्टलैंड विभाग के प्रमुख थे.

 

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed.

%d bloggers like this: