न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

संविधान को नष्ट करने की कोशिशें हो रही हैं: प्रियंका गांधी

1,063

Silchar (Assam): भाजपा पर तीखा हमला बोलते हुए कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी ने रविवार को कहा कि आज संविधान का सम्मान नहीं किया जा रहा और इसे नष्ट करने की कोशिशें की जा रही हैं.

सिलचर से कांग्रेस उम्मीदवार और मौजूदा सांसद सुष्मिता देव के समर्थन में रोड शो करते हुए प्रियंका ने यह भी कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पूरी दुनिया की यात्रा की लेकिन अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी में बमुश्किल ही थोड़ा बहुत वक्त बिताया है.

इसे भी पढ़ेंः लोकसभा चुनाव के दूसरे चरण में सबसे अमीर प्रत्याशी कांग्रेस के वसंताकुमार, 417 करोड़ के मालिक

उन्होंने कहा कि आज महापुरुष बीआर अंबेडकर की जयंती है. उन्होंने संविधान के माध्यम से इस देश की बुनियाद रखी थी. हर नेता की जिम्मेदारी है कि संविधान का सम्मान किया जाए.

कांग्रेस महासचिव और पूर्वी उत्तर प्रदेश की प्रभारी प्रियंका ने कहा, ‘‘आज आप देख रहे हैं कि संविधान का सम्मान नहीं किया जा रहा और उसे नष्ट करने के प्रयास किये जा रहे हैं.’’

इसे भी पढ़ेंः झरिया विधायक संजीव सिंह के छोटे भाई सिद्धार्थ गौतम धनबाद लोकसभा से निर्दलीय लड़ेंगे चुनाव

भाजपा के घोषणापत्र की आलोचना करते हुए उन्होंने कहा कि इसमें विभिन्न संस्कृतियों और धर्मों के लिए जगह नहीं है. संविधान के लिए भी कोई सम्मान नहीं है.

Related Posts

 नजरबंद उमर अब्दुल्ला हॉलिवुड फिल्में देख रहे हैं, महबूबा मुफ्ती किताबें पढ़ समय बिता रही हैं

जम्मू-कश्मीर को विशेष दर्जा देने वाले आर्टिकल 370 के प्रावधानों को खत्म करने के फैसले से पहले कश्मीर के कई राजनेता नजरबंद किये गये थे.

SMILE

उन्होंने कहा कि वाराणसी की जनता ने उन्हें बताया कि मोदी ने पिछले पांच साल में वहां किसी के साथ पांच मिनट का वक्त नहीं बिताया है.

प्रियंका ने कहा, ‘‘वह अमेरिका गये और लोगों से गले मिले. चीन गये और वहां भी गले मिले. रूस और अफ्रीका जाकर गले मिले. जापान जाकर ड्रम बजाया. पाकिस्तान में बिरयानी खाई.’’

उन्होंने कहा, ‘‘लेकिन अपने ही संसदीय क्षेत्र में वह एक बार भी किसी परिवार के यहां उनका हालचाल पूछने नहीं गये.’’

प्रियंका ने सुष्मिता देव की तुलना अपनी दादी इंदिरा गांधी से करते हुए कहा, ‘‘अगर आपको आज भी इंदिरा गांधी याद हैं तो ऐसा इसलिए क्योंकि उन्होंने आपके लिए काम किया. मैं यहां सुष्मिता के लिए आयी हूं. उनमें इंदिरा जी जैसा साहस है.’’

इसे भी पढ़ेंः मोदी और शाह से ‘देश को बचाने’ के लिए कुछ भी करेंगे: केजरीवाल

 

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
%d bloggers like this: